एक बार फिर से 29 एवं 30 सितम्बर को सजेगी जैविक उत्पाद बाजार

organic market

लखनऊ। राज्य मुख्यालय जैविक उत्पाद प्रदर्शनी एवं बाजार एक बार फिर से 29 एवं 30 सितम्बर को अपना बाजार में सजेगी। दो दिनों के जैविक उत्पाद बाजार में उमड़ी भारी भीड़ को देखते हुए मण्डी परिषद ने आगामी 29 एवं 30 सितम्बर को फिर से जैविक बाजार लगाने का निर्णय किया है। उस दिन भी प्रदेश के अलग-अलग जिलों के आर्गेनिक खेती करने वाले किसान अपने उ‌तपाद लाकर सीधे लोगों को बेच सकेंगे।

पढे: उतरेठिया चौराहे के पास बाइक सवार बदमाशों ने शिक्षिका से चैन लूट 

यहां यह उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार व मंडी परिषद ने 15 एवं 16 सितम्बर को गोमती नगर के अपना बाजार में जैविक उत्पाद प्रदर्शनी एवं बाजार लगावाई थी। उद्देश्य यही था कि प्रदेश में जैविक उत्पादों का प्रयोग बढ़े तथा इसकी खेती व उसकी बिक्री करने वाले किसानों की आय में बढ़ोतरी हो। रविवार को देर शाम तक जैविक बाजार और प्रर्दशनी में लोगों की भारी भीड़ रही। ज्यादातर स्टालों के सारे जैविक उ‌त्पाद बिक गए। देर से आए लोगों ने मण्डी परिषद के अधिकारियों से आगे भी ऐसे ही बाजार लगाने का अनुरोध किया। बाद में मण्डी प्रशासन ने लोगों की मांग पर अपनी सहमति दी और 29 एवं 30 सितम्बर को फिर से जैविक बाजार सजाने का ऐलान किया।

विदित हो कि अपना बाजार में किसान स्वयं द्वारा उत्पादित तमाम तरह के परम्परागत किस्मों के चावल व मोटा अनाज मसलन शावां-कोदो, अलसी, जौ, मड़ुआ, देसी मक्का, देसी बाजरा, साठा गेहूं जैसे किस्मों के साथ-साथ शकरकंदी, सूरन आदि से लेकर अनेक प्रकार की दालें, कई तरह की ताजी सब्जियां, फल, गुड़ व सरसों का तेल आदि स्टालों पर बेचने के लिए लेकर आए थे अौर अन्तिम दिन रविवार की शाम तक कमोबेश उनका सारा सामान बिक चुका था।

loading...
Loading...

You may also like

सिपेट कॉलेज पर कृष्ण के पिता ने लगाया लापरवाही का आरोप, छात्रों ने मचाया हँगामा

लखनऊ। सरोजनीनगर के नादरगंज स्थित सिपेट कॉलेज में