एयरसेल मैक्सिस केस : पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम आरोपी घोषित

पी चिदंबरमपी चिदंबरम

नई दिल्ली। सीबीआई ने एयरसेल मैक्सिल केस में पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम को आरोपी घोषित कर दिया है। इस केस में जो पूरक चार्जशीट फाइल की गई है उसमें पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति चिदंबरम का भी नाम शामिल है। बता दें कि इस मामले में चिदंबरम को पहले से ही आरोपी बनाया गया है। जानकारी है कि इस मामले पर अदालत 31 जुलाई को सुनवाई करेगी। पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम पर आरोप है कि उन्होंने कथित तौर पर एयरसेल मैक्सिस को FDI को मंजूरी देने के लिए आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समीति की सिफारिशों को नजरअंदाज कर दिया था।

पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम के खिलाफ विवादित FRDI बिल

एक ओर जहां कांग्रेस पार्टी अविश्वास प्रस्ताव लाकर केंद्र सरकार को घेरने की कोशिश कर रही है। वहीं गुरूवार को कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम पर सीबीआई ने शिकंजा कसा है। सीबीआई ने कहा है कि इस मामले में पी चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति चिदंबरम दोनों ही मुख्य आरोपी हैं। हालांकि आधिकारिक तौर पर इस बात की पुष्टि कर ली गई है।

ये भी पढ़ें: राहुल ने बोला मोदी पर बड़ा हमला, बोले बीजेपी सच्चाई छिपाने में करती है विश्वास 

10 जुलाई तक दिया गया था संरक्षण

अधिकारी के वकील ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि इस मामले में चार्ज शीट दायर की गई है। उन्होंने यह भी कहा कि आय से अधिक संपत्ति के मुद्दे को सुप्रीम कोर्ट द्वारा पहले ही मंजूरी दे दी गई थी और वह याचिकाकर्ता के खिलाफ अवमानना ​​कार्रवाई चाहते हैं। दरअसल, एयरसेल-मैक्सिस मामले 2006 में एयरसेल में निवेश के लिए ग्लोबल कम्युनिकेशन होल्डिंग सर्विसेज लिमिटेड को विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड द्वारा मंजूरी देने के लिए संबंधित है। पी चिदंबरम उस वक्त वित्त मंत्री थे और उनके बेटे कार्ति चिदंबरम पर मंजूरी के बदले में रिश्वत का आरोप है। अदालत ने पी चिदंबरम को 10 जुलाई तक मामले में गिरफ्तारी से संरक्षण दिया था।

loading...
Loading...

You may also like

रेल हादसा: रावण पुतला दहन के दौरान ट्रेन से कटकर 60 से ज्यादा मरे

अमृतसर। यहां जोडा रेलवे फाटक के पास दशहरा