पी. चिदंबरम को एक फरवरी तक राहत, अभी नहीं होगी गिरफ्तारी

पी. चिदंबरम को एक फरवरी तक राहत, अभी नहीं होगी गिरफ्तारी

नयी दिल्ली। पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति के खिलाफ सीबीआई और ईडी द्वारा एयरसेल मैक्सिस घोटाले के दर्ज मुकदमों में गिरफ्तारी पर रोक की अवधि को 1 फरवरी तक बढ़ा दिया है। यानी अभी फिलहाल उनको गिरफ्तार नहीं किया जा सकता है। सीबीआई की तरफ से पेश सॉलीसीटर जनरल तुषार मेहता ने विशेष सीबीआई अदालत को जानकारी देते हुए बताया कि इस मामले में हो रही जांच अब लग भग पूरी होने वाली है।

ये भी पढ़े:- बैक्टीरिया खोलेंगे अब सीवर लाइन का चोक, जय सिंह नरवरिया का अद्भुत फार्मूला 

जिसके बाद विशेष न्यायाधीश ओपी सैनी ने इस मुक़दमे की सुनवाई की अगली तारीख एक फरवरी तक तय की है। पी चिदंबरम और कार्ति की तरफ से पेश हुए वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल और एएम सिंघवी ने इस गिरफ्तारी से छूट की अवधि बढ़ाने की अपील की थी। सीबीआई ने अदालत को यह भी बताया कि इस मामले के आरोपी कुछ लोकसेवकों के अभियोजन के लिए ज़रूरी मंजूरी हासिल की जा चुकी है।

जांच एजेंसी ने पहले भी कहा था कि पी चिदंबरम के लिए ऐसी ही मंजूरी हासिल की गई है। अदालत ने सीबीआई के मामले के आधार पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा दर्ज धनशोधन मामले में सुनवाई फिलहाल अभी अगली तारीख तक के लिए स्थगित कर दी है। ईडी के विशेष लोक अभियोजक नितेश राणा ने इस बारे में गुजारिश की थी। सीबीआई द्वारा इस मामले में 19 जुलाई को दायर आरोप-पत्र में चिदंबरम और उनके बेटे का नाम शामिल था।

ये भी पढ़े:- सोशल मीडिया पर राहुल गांधी और कमलनाथ की फेक तस्वीरें हुईं वाइरल 

जांच एजेंसी ने विशेष न्यायाधीश के सामने एक पूरक आरोप-पत्र दायर किया था, जिस पर विचार के लिए 31 जुलाई की तारीख तय की गई थी। यह मामला एयरसेल मैक्सिस सौदे में विदेशी निवेश के संवद्र्धन बोर्ड (एफआईपीबी) की मंजूरी देने में कथित अनियमितता से जुड़ा है। 600 करोर की अनुमति थी केवल लेकिन निवेश की राशि 3500 करोड़ रुपये  पाहुच गाइ थी।

Loading...
loading...

You may also like

मोदी बोले लोकतंत्र हमारे संस्कारों में, जबकि दूसरे दलों में परिवार है पार्टी

मुम्बई। प्रियंका गांधी को कांग्रेस द्वारा पूर्वी उत्तर