रूस दौरा: पीएम मोदी और पुतिन के बीच अनौपचारिक मुलाक़ात

रूस दौरारूस दौरा

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रूस दौरा पर रवाना हो गये हैं। पीएम मोदी के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से अनौपचारिक मुलाक़ात का उद्देश्य साझेदारी को मजबूत करना है। उनकी मुलाक़ात से भारत और रूस की ‘विशेष और गौरवशाली’ सामरिक साझेदारी को ताकत मिलेगी। पीएम मोदी ने अपनी रूस यात्रा की पूर्व संध्या पर रूसी और अंग्रेजी में सिलसिलेवार ट्वीट किए थे। अपने ट्वीट में पीएम मोदी ने कहा था कि राष्ट्रपति पुतिन से मिलने के लिए काफी उत्साहित हूँ। साथ ही उन्होंने बताया था कि इस मुलाकात से द्विपक्षीय संबंधों पर विचार-विमर्श के भी सीमित रहने का संभावना है।

रूस दौरा पर गये पीएम मोदी की पुतिन से मुलाक़ात

रूस दौरा पर रवाना होने से पहले पीएम मोदी ने ट्वीट पर इस दौरे के मुख्य पहलु को जनता से साझा किया। उन्होंने कहा कि, ‘रूस की मित्रवत जनता का अभिवादन। मैं सोमवार को सोची में राष्ट्रपति पुतिन के साथ होने वाली मुलाकात को लेकर काफी उत्साहित हूं। उनसे मिलकर हमेशा खुशी होती है।’ साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि सोमवार को होने वाले इस अनौपचारिक सम्मेलन के दौरान दोनों नेताओं का ध्यान वैश्विक और क्षेत्रीय मुद्दों पर केंद्रित रहेगा। इसमें ईरान के साथ परमाणु समझौते से हटने के अमेरिका के फैसले के असर पर भी चर्चा हो सकती है। आधिकारिक सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, दोनों नेताओं के बीच 4-6 घंटे तक होने वाली इस बातचीत का कोई मुख्य एजेंडा नहीं है।

ये भी पढ़ें: लखनऊ: बीजेपी विधायक की गुंडई, फीस जमा करने गए छात्रा के भाई के साथ की मारपीट 

इस पहलुओं पर हो सकती है चर्चा

पीएम मोदी के रूस दौरा के दौरान दोनों नेताओं के बीच ईरान एटमी डील से अमेरिका के पीछे हटने के फैसले पर आर्थिक असर क्या होगा इसपर मुख्य बात हो सकती है। इसके अलावा अफगानिस्तान और सीरिया के हालात, आतंकवाद के खतरे और आगामी शंघाई सहयोग संगठन एवं ब्रिक्स सम्मेलन से जुड़े मुद्दों पर बात हो सकती है। साथ ही अनुमान लगाया जा रहा है कि नई दिल्ली की ओर से इस बारे में ट्रंप प्रशासन से भी बात हो रही है।

loading...
Loading...

You may also like

संपूर्ण समाधान दिवस पर आईं 203 शिकायतें, तीन का मौके पर निस्तारण

लखनऊ। मोहनलालगंज तहसील में मगंलवार को आयोजित संपूर्ण