शराब विक्रेता को गोली मार कर लूटने वाले बदमाश तक नही पहुॅच सके पुलिस के हाथ

- in क्राइम, लखनऊ

लखनऊ। बाजार खाला थाना क्षेत्र मे मंगलवार की रात शराब विक्रेता को गोली मार कर हुई लूट की वारदात के बाद पुलिस को अभी तक बदमाशो का कोई सुराग नही मिल सका है। बदमाश की गोली से घायल दीपू जयसवाल के भाई अंकित जयसवाल की तहरीर पर बाजार खाला कोतवाली मे मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

इन्स्पेक्टर बाजार खाला सुजीत कुमार दूबे ने बताया कि अंकित की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है उन्होने बताया कि वादी मुकदमा ने ये बताया है कि बदमाश ने उनके भाई को गोली मार कर बैग लूट लिया बैग मे कैश और जरूरी कागजात थे लेकिन अंकित ये नही बता पाए की बैग मे कितना कैश था।

इन्स्पेक्टर बाजार खाला ने बताया कि घटना के बाद घटना स्थल और आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरो की फुटेज चेक की गई लेकिन फुटेज मे बदमाश नजर नही आया। उन्होने बताया कि घटना के हर पहलु की जॉच की जा रही है वारदात का जल्द खुलासा होने की उम्मीद है। पुलिस सूत्रो ने बताया कि घटना के बाद पुलिस ने आसपास रहने वाले अपराधिक प्रवत्ति के कई लोागों को बुला कर पूछताछ की गई लेकिन कोई नतीजा नही निकला।

बताया जा रहा है कि बदमाश की गोली से घायल हुए दीपू जयसवाल की ट्रामा सेन्टर मे हालत खतरे से बहार है। आपको बता दे कि मंगलवार की रात लगभग साढ़े नौ बजे बाजार खाला की मिल एरिया पुलिस चौकी से महज तीन सौ मीटर की दूरी पर मालवीय नगर रोड पर अपाचे सवार बदमाश ने माडल शाप चलाने वाले एलडीए कालोनी कानपुर रोड आशियाना निवासी दीपू जयसवाल की मोटर साईकिल मे टक्कर मारने के बाद उसे गिराया फिर गोली मार कर उसका नोटो से भरा बैग लूट कर फरार हो गया था।

ये भी पढ़ें:- शराब सेल्समैन की गोसाईगंज में हत्या, दुर्घटना का रूप देने को खेत में पलटी कार

घायल दीपू डायमण्ड मैरिज हाल के पास रंजीत धानुक के साथ साझे मे अंगेजी शराब की दुकान चलाते है। उनकी दुकान पर चार सेल्स मैन है। घटना के बाद दीपू के पार्टनर रंजीत धानुक ने बताया था कि दीपू रोज की बिक्री का पैसा लेकर अपने घर जाते थे आम दिनो की बिक्री एक से सवा लाख होती थी रंजीत के अनुसार त्योहार के कारण मंगलवार को बिक्री ज्यादा हुई थी।

हालाकि घटना के बाद पुलिस ने लूट की घटना को संदिग्ध माना था। सवाल ये उठता है दीपू को गोली मारने वाले बदमाश को कैसे पता हुआ कि उसके बैग मे कैश है कही इस वारदात के पीछे दीपू के किसी करीबी की साजिश तो नही है घटना क्रम को देख कर यही अन्दाजा लगाया जा रहा है कि दीपू को गोली मारने वाले बदमाश को पता था कि दीपू दिन भर की बिक्री का कैश लेकर जा रहा है।

खास बात ये रही कि बदमाश ने दीपू को उसकी माडल शाप के पास ही निशाना बनाया घटना स्थल से मिल एरिया पुलिस चौकी की दूरी भी बहोत कम है ऐसे हालात मे पुलिस का मौका ए वारदात पर देर से पहुॅचना भी पुलिस की मुस्तैदी पर सवालिया निशान लगाता है।

घटना के बाद स्थानीय लोगो का कहना था कि घटना की सूचना सौ नम्बर पर दी गई लेकिन पुलिस घटना स्थल काफी देर के बाद पहुॅची थी लेकिन इन्स्पेक्टर बाजार खाला का कहना था कि उन्हे जैसे ही घटना की सूचना मिली वैसे ही वो घटना स्थल पहुॅ गए।

loading...
Loading...

You may also like

CM योगी ने किया अंतर्राष्ट्रीय मुख्य न्यायाधीश सम्मेलन का शुभारंभ, बोली ये बड़ी बात

लखनऊ। उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा