पुलिस के जवान मोटापा कम करें नहीं तो जाएगी नौकरी

पुलिस
Please Share This News To Other Peoples....

नई दिल्ली। सरकार ने ऐसे पुलिस कर्मियों की पहचान करने को कहा है जिनके वजन ज्यादा और पेट निकले हुए हैं। देश में ऐसे पुलिसकर्मी आसानी से कहीं भी दिख जाएंगे। अगर इन पुलिस कर्मियों ने तय समय सीमा में फ़िट नहीं होते हैं तो उन्हें नौकरी से बर्ख़ास्त भी किया जा सकता है।

प्लाटून कमांडर को ऐसे पुलिस कर्मियों की करेंगे पहचान

बतातें चलें कि कर्नाटक स्टेट रिजर्व पुलिस (केएसआरपी) ने अपने प्लाटून कमांडर को ऐसे पुलिस कर्मियों की पहचान करने को कहा है जिनके वजन ज्यादा और पेट निकले हुए हैं। केएसआरपी के अतिरिक्त महानिदेशक भास्कर राव ने कहा कि छह महीने पहले जवानों की शारीरिक जांच की गई थी, जिसमें उन्हें मधुमेह और वजन की समस्या से होने वाली बीमारी का पता चला है।

केएसआरपी ने जवानों को फ़िट रहने के लिए बाक़ायदा सर्कुलर भी जारी किया

केएसआरपी ने जवानों को फ़िट रहने के लिए बाक़ायदा सर्कुलर भी जारी किया है। अगर वे अपने स्वास्थ्य पर ध्यान नहीं देते हैं और फिट नहीं होते हैं तो उन्हें बर्खास्त कर दिया जाएगा।  पिछले दो दशकों में विभाग के कराए गए कुछ सर्वे में भी यह बात समाने आई है कि वे स्वस्थ नहीं है। पुलिसकर्मी, ख़ासकर ट्रैफ़िक व्यवस्था में लगे कर्मी को फेफड़े और दिल की बीमारी होती है। लेकिन भास्कर राव ने जवानों को फ़िट रहने के लिए यूं ही नहीं कहा है। वो इसके पीछे बड़ी वजह बताते हैं।

ये भी पढ़ें :-सुप्रीम कोर्ट की केन्द्र को फटकार, कहा ताजमहल को सरंक्षण दो या ध्वस्त कर दो

पिछले 18 महीनों में केएसआरपी 153 कर्मियों की मौत

भास्कर राव ने  बताया कि पिछले 18 महीनों में, हमारे 153 कर्मियों की मौत हो गई। उनमें से 24 की मौत सड़क दुर्घटना में और नौ ने आत्महत्या कर ली। बाकी की मौतें मधुमेह, दिल की बीमारी और अन्य स्वास्थ्य से जुड़ी परेशानियों की वजह से हुईं। यह सावधान करने वाली स्थिति है। राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में सामाजिक तनाव और दूसरी ज़रूरतों में क़ानून व्यवस्था को संभाल रहे रिजर्व पुलिस के जवानों को अधिकतर खाने में चावल के पकवान दिए जाते हैं।

पुलिस के जवान खेल-कूद जैसे शारीरिक परिश्रम की कमी के चलते  हो रहे हैं मोटे

भास्कर राव ने कहा कि पुलिस के जवान चावल के पकवान खाते हैं, फिर सिगरेट पीते हैं और बाद में शराब भी। खेल-कूद जैसे शारीरिक परिश्रम की कमी के चलते वे मोटे हो रहे हैं और उनकी वर्दी छोटी हो रही है। इसलिए प्लाटून कमांडर को उन्हें फ़िट बनाने को कहा गया है।एक प्लाटून कमांडर के अंदर रिजर्व पुलिस के 25 जवान होते हैं। उन्हें हर हफ्ते जवानों का वजन करने को कहा गया है। जवानों को फिट रखने के लिए केएआरपी ने स्वीमिंग और योग क्लास की शुरुआत की है। उन्हें विभिन्न खेल-कूद में भाग लेने को भी कहा जा रहा है। ये सबकुछ उन्हें डॉक्टरों की सलाह पर करने को कहा गया है। भास्कर राव ने बताया कि हमारी यही योजना है। अगर वे स्वास्थ्य रहेंगे, उनका जीवन अच्छा होगा। वह  लंबा जीवन जिएंगे। हम चाहते हैं कि वह जब अपने परिवार लौटे तो स्वस्थ रहें। हमारी योजना है कि वो 60 साल की उम्र में तीन जवान लोगों को अकेले संभाल सके।

Related posts:

आइडल नहीं मुगल शासक थे 'अय्याश' : वसीम रिजवी
यूपी निकाय चुनाव : लखनऊ नगर निगम की कल से शुरू होगी चुनावी प्रक्रिया
मायावती को बड़ा झटका, नसीमुद्दीन के खिलाफ याचिका को सभापति ने किया खारिज
लखनऊ में चौनल पार्टनर ओन्ड ओरिएंट बेल टाईल बुटीक का हुआ उद्घाटन
भारत की हैं ये पहली ट्रांसजेंडर न्यायाधीश, जाने जोइता मंडल को  
सुप्रीमकोर्ट का फैसला, Love Marriage करने पर मिलेगी पुलिस की सुरक्षा
यूपी में एनकाउंटर पर पूर्व डीजीपी का सवाल, फर्जी पीठ थपथपा रही है सरकार
मजदूर की हत्या के एक और आरोपी को पुलिस ने दबोचा...
बीजेपी से नीतीश ने नहीं तोड़ा नाता तो जाएगी सत्ता, इस नेता की सीएम की कुर्सी पर है नजर
दलित मित्र सम्मान से नवाजे गए सीएम योगी, विरोध करने वाले नेता गिरफ्तार
प्रेमिका की शादी से इंकार, तो प्रेमी ने पांच लाख रुपये में लगा दी आग
बिहार पुलिस दारोगा बहाली : प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम जारी, पास अभ्यर्थियों की देखें पूरी लिस्ट..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *