सुरक्षाकर्मियों और पुलिस दोनों परेशान वृंदावन में नहीं हैं तेजप्रताप

पटना। तेजप्रताप यादव की लोकेशन को लेकर पुलिस और प्रशासन परेशान है। तेजप्रकाश जब भी वृंदावन आते हैं। चैतन्य विहार के भक्ति मंदिर में ठहरते हैं, लेकिन तेज प्रताप जब भी वृंदावन आते हैं, इसी स्थान पर ठहरते हैं। लेकिन, अभी तक उनके यहां पहुंचने की कोई जानकारी नहीं है।

इससे पहले वह सोमवार को वह परिवार की गुजारिश पर पटना पहुंचने वाले थे, लेकिन वह गया के होटल से सुरक्षाकर्मियों को चकमा देकर अचानक वृंदावन चले गए हैं। होटल में उनके कमरे का दरवाजा खोला गया तो पता चला कि वो गायब हैं।

तेजप्रताप यादव के बिना सुरक्षाकर्मियों के वृंदावन चले जाने की खबर के बाद सुरक्षाकर्मी गया से पटना के लिए रवाना हो गए हैं। बोधगया में स्वास्थ्य लाभ कर रहे तेज प्रताप यादव चुपके से वृंदावन के लिए निकल गए। इस बात की जानकारी उनके किसी सुरक्षाकर्मियों को नहीं थी। अपने साथ रहे तीन परिवार के सदस्यों व चालक के साथ तेजप्रताप वृंदावन को निकले हैं।

होटल का दरवाजा बंद था। जिसे स्थानीय राजद विधायक कुमार सर्वजीत के आने पर सुरक्षाकर्मियों ने खोला तो पाया कि तेजप्रताप अपने दो दोस्तों और ड्राइवर के साथ गायब हैं। बाद में पता चला कि वो बिना किसी को बताए वृंदावन के लिए निकल गए हैं।

ये भी पढ़ें:- अमिताभ ठाकुर ने लगाये आरोप, पुलिस मेरे साथ कर रही अन्याय 

बता दें कि तेजप्रताप पिता लालू यादव से रांची में मिलने के बाद पटना लौटने के बाद बीमार हो गए थे और उसी की वजह से वे गया में रुक गए थे। गया से उनके पटना आने की खबर थी।

बता दें कि तेजप्रताप अपनी पत्नी से नाराज चल रहे हैं और उन्होंने उनसे तलाक लेने की अर्जी कोर्ट में दायर की है। इस प्रकरण के बाद लालू परिवार परेशान चल रहा है। लेकिन, परिवारवालों द्वारा लगातार तेजप्रताप को मनाने का प्रयास किया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक परिवारवालों द्वारा मान-मनौवल के इस प्रयास के बाद ही तेजप्रताप यादव वापस पटना आने को तैयार हुए थे और आज शाम उनकी अपनी पत्नी से मुलाकात भी होने की चर्चा हो रही थी लेकिन अब तेजप्रताप बनारस के बाद वृंदावन चले गए हैं। बताया जा रहा है कि तेजप्रताप की तबीयत भी खराब है और उनको तेज बुखार है।

ये भी पढ़ें:- तेजप्रताप की फेसबुक पोस्ट ने खोले कई नए राज़, नहीं बनना चाहते थे एेश्वर्या के रांझा 

बोधगया के विधायक कुमार सर्वजीत और बाराचट्टी विधायक समता देवी तेजप्रताप के साथ होटल में मौजूद थे। लालू प्रसाद यादव स्थानीय विधायक कुमार सर्वजीत से लगातार संपर्क में रहे। इससे पहले रविवार को ही रांची में तेजप्रताप ने अपने पिता लालू यादव से मुलाकात की थी, जिसके बाद तेजप्रताप की तबीयत बिगड़ गई थी।

रांची रिम्स में पिता लालू से मुलाकात के बाद तेजप्रताप ने परिवार पर आरोप लगाया कि सभी मेरे खिलाफ हो गये हैं, जबकि उन्हें मेरा साथ देना चाहिए। लेकिन, मैं सुलह नहीं करूंगा, अकेले ही लडूंगा। परिवार का नाम खराब होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि तो क्या करें? मर जाएं हम कि फांसी लगा लें। तेज प्रताप ने कहा मुझे अपनी राजनीतिक भविष्य की चिंता नहीं है।

loading...
Loading...

You may also like

दबंगों ने कई राउड फायर कर किया प्रापर्टी डीलर का अपहरण

लखनऊ। मोहनलालगंज इलाके के बलसिंहखेड़ा गांव में पैसों