एक साथ पुलिसकर्मी और बाबा का वेश धर जालसाजों ने हड़पे जेवर

- in क्राइम, लखनऊ
demo pic

लखनऊ। गाजीपुर में बाबा का वेश धर पहुंचे जालसाजों ने वृद्धा को बातों में उलझा लिया। दुख मिटाने का भरोसा दे उनके जेवर हड़प कर भाग निकले। वहीं, कृष्णानगर में पुलिसकर्मी के रूप में पहुंचे ठगों ने गहने पहनने पर जुर्माना भरने की बात कह महिला को बातों में उलझा कर जेवर उतरवा लिए। इसके अलावा मड़ियांव में चोरों ने कार का शीशा तोड़ बैग चोरी कर लिया।

कष्ट दूर करने के बहाने बातों में उलझाया

शालीमार गार्डेन निवासी सरोज श्रीवास्तव शुक्रवार सुबह नर्वदेश्वर महादेव मन्दिर जा रही थीं। घर से कुछ दूर पहुंची। तभी एक युवक मिल गया। उसने कहा कि मां की बीमारी का हवाला देते हुए दुआ करने के लिए कहा। युवक को मुसीबत में फंसा जान सरोज उससे बात करने लगी। इस बीच युवक ने एक गड्डी निकाल कर सरोज के हाथ पर रख देते हुए माथे से लगाने को कहा। बातों में फंसा कर युवक सरोज को लेकर सुनसान जगह पर पहुंच गया। वहां पहुंच कर युवक ने सरोज से जेवर उतारने को कहा। वह उलझन में पड़ गई। उनकी हड़बड़ाहट देख युवक ने कहा कि माताजी अगर आप जेवर नहीं उतारेंगी तो गड्डी में रखे रूपयों की दुआ मेरी मां को नहीं लगेगी। उचक्के के फेर में फंसी सरोज उसके कहे अनुसार जेवर उतारने लगी। इस बीच युवक ने उन्हें आंखे बंद करने के लिए कहा। कुछ देर बाद सरोज ने आंखे खोली तो मदद मांगने वाला युवक जेवर लेकर फरार हो चुका था। इंस्पेक्टर गाजीपुर राकेश सिंह ने बताया कि रिपोर्ट दर्ज कर घटनास्थल के पास लगे सीसी कैमरों की फुटेज खंगाली जा रही है।

पढे:- लखनऊ : हनुमान मंदिर के महंत को सरेआम मारी गोली

गहने पहनने पर लगता है जुर्माना

कृष्णानगर इन्द्रलोक कालोनी निवासी राममुखी अवस्थी काम से जा रही थी। वह भोलाखेड़ा स्थित पण्डित होटल के पास टेम्पो में बैठने लगी। तभी एक युवक दौड़ते हुए उनके पास पहुंचा। सिपाही होने का हवाला देते हुए उनसे जेवर पहनने पर पांच सौ रुपए जुर्माना भरने के लिए कहा। राममुखी सिपाही की बात सुन हैरान रह गई। उन्होंने जेवर उतारने से इंकार किया। इस पर युवक दबाव बनाने लगा। नतीजन राममुखी जेवर उतार कर पर्स में रखने लगी। उसी बीच युवक ने झपट्टा मार कर राममुखी से चेन छीन कर भाग निकला। इंस्पेक्टर कृष्णानगर ने बताया कि एफआईआर दर्ज कर छानबीन की जा रही है।

कार का शीशा तोड़ चुराया बैग

इन्दिरानगर निवासी वृतिका सक्सेना शुक्रवार दोपहर आईआईएम रोड स्थित एक दुकान पर गईं थीं। मुख्य सड़क पर कार पार्क करने के बाद वह टाइल्स की दुकान में चली गईं। कुछ देर बाद वापस लौटीं तो कार के दाहिनी खिड़की का शीशा टूटा मिला। वहीं, पिछली सीट पर रखा पर्स गायब था। वृतिका के पति विकास सक्सेना ने बताया कि पर्स चोरी करने वाले युवक बाइक से थे। पास की एक दुकान में लगे सीसी कैमरे में चोरों की तस्वीर कैद हुई है। उन्होंने बताया कि पर्स में करीब 5 हजार रुपए व 50 हजार रुपए के जेवर थे।

loading...
Loading...

You may also like

डेढ़ लाख का ईनामिया दुर्दान्त अपराधी राका चढ़ा लखनऊ पुलिस के हत्थे

लखनऊ। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी के निर्देशन