ख़ास खबरराष्ट्रीयशिक्षा

पॉलीटेक्निक सत्र 2019-20 के सेमेस्टर परिणाम हो गया जारी

लखनऊ। पॉलीटेक्निक सत्र 2019-20 के सेमेस्टर परिणाम शुक्रवार शाम जारी हुए। सेमेस्टर परिणाम में कुल 1,81,615 छात्रों ने परीक्षा उत्तीर्ण की। वहीं, विशेष बैक पेपर परीक्षा के 15,008 छात्रों में 8,694 छात्र फेल हो गए और 5,402 छात्रों ने ही परीक्षा उत्तीर्ण की।

पॉलीटेक्निक में प्रथम, तृतीय और पंचम वर्ष की सेमेस्टर परीक्षाएं बीते सात दिसंबर से 26 दिसंबर के बीच आयोजित हुईं। इसमें 2,01,910 छात्रों को परीक्षा देनी थी जिनमें से 1,85,697 छात्रों ने ही परीक्षा दी जबकि 16,213 छात्र अनुपस्थित रहे। परीक्षा में 76,250 छात्रों ने पूर्ण रूप से परीक्षा उत्तीर्ण की जबकि 1,05,365 छात्र बैक लेकर पास हुए।

प्राइवेट में 14.83 व राजकीय के 43.02 प्रतिशत पूर्ण पास

प्राइवेट पॉलीटेक्निक संस्थानों में शिक्षा का स्तर लगातार गिरता जा रहा है। प्राइवेट संस्थानों में प्रथम वर्ष में पूर्ण पास होने वाले छात्रों का प्रतिशत राजकीय पॉलीटेक्निक संस्थानों की अपेक्षा तीन गुना कम है। राजकीय में 43.02 प्रतिशत छात्र पूर्ण रूप से पास हुए जबकि प्राइवेट में यह आंकड़ा 14.83 फीसदी ही रहा। बैक के साथ पास होने वाले छात्रों का आंकड़े में दोनों का प्रतिशत बढ़ा हुआ है। राजकीय पॉलीटेक्निक में यह आंकड़ा 55.02 तो प्राइवेट संस्थानों में 82.23 फीसदी छात्र बैक के साथ प्रमोट हुए।

पांच परीक्षा केंद्रों के परिणाम रुके

प्राविधिक शिक्षा परिषद ने पांच परीक्षा केंद्रों के परिणाम रोक दिए हैं। यहां परीक्षा देने वाले सैकड़ों छात्रों के परिणाम जांच के बाद जारी होंगे। परिषद सचिव संजीव कुमार सिंह के मुताबिक सामूहिक नकल की शिकायत के मामले के चलते परिणाम रोके गए हैं। इसमें आजमगढ़ के मां वैष्णों मां शारदा पॉलीटेक्निक, एमएसडी पॉलीटेक्निक, बैजनाथ रामनरेश कॉलेज ऑफ टेक्नोलॉजी, गाजीपुर का एनएसएसके इंस्टीट्यूट ऑफ फॉर्मेसी एवं वाराणसी का विजय इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी इंस्टीट्यूट शामिल हैं।

loading...
Loading...
Tags