पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बड़ा खुलासा, प्लानिंग के तहत हुई मुन्ना बजरंगी की हत्या

मुन्ना बजरंगीमुन्ना बजरंगी

लखनऊ। पूर्वांचल का माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ गई है। यह रिपोर्ट प्लांड मर्डर की ओर इशारा कर रही है। मुन्ना बजरंगी को सिर और सीने से सटाकर 10 गोलियां मारी गई थी। जिसमें 9 गोलियां लगीं और शरीर पर गोलियों के 13 निशान हैं। वहीं पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत के बाद किसी चोट का जिक्र नहीं है। पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट में यह भी खुलासा हुआ है कि मुन्ना बजरंगी को मौत के बाद कोई गोली नहीं मारी गई। बता दें मुन्ना बजरंगी का पोस्टमार्टम तीन डॉक्टरों के पैनल ने किया था।

पढ़ें:- बीजेपी विधायक का बड़ा खुलासा, इसने कराई मुन्ना की हत्या 

मुन्ना बजरंगी की हत्या की पोस्टमार्टम रिपोर्ट 

माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या जिला कारागार में पूरी प्लानिंग के साथ की गई। मुन्ना बजरंगी पर एक-दो नहीं पूरी 10 गोलियां दागी गईं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार उसके सिर व सीने पर सटाकर गोलियां मारी गईं। 9 गोलियां लगीं और शरीर पर गोलियों के 13 निशान हैं। सिर का दायां हिस्सा गोलियां लगने से बाहर निकल आया था। सुनील ने पिस्टल से मुन्ना बजरंगी पर 10 गोलियां चलाईं थी।

पढ़ें:-  डॉन मुन्ना बजरंगी हत्याकांड: हाईकोर्ट ने ख़ारिज की सीबीआई जांच की याचिका 

हत्या से जुड़े कई सवाल जिनके जवाब किसी के पास नहीं 

जेल में हुई इस हत्या को लेकर कई सवाल है जिनके जवाब किसी के पास नहीं है पहला सवाल है आखिर पिस्टल जेल के अंदर कैसे पहुंची? इस सवाल पर सब चुप्पी सीधे बैठे हैं। गोली दागने के बाद फोटो भी खींची गई यानी हत्यारे के पास मोबाइल भी था।

जेल में हत्यारे के पास मोबाइल फोन कैसे आया? इससे साफ है कि हत्या की साजिश काफी दिनों पहले ही रची जा चुकी थी। डीजीपी ओपी सिंह का कहना है कि पुलिस आरोपित के बयान के अलावा सभी बिंदुओं पर गहनता से जांच कर रही है। फोरैंसिक टीमें भी साक्ष्य जुटा रही हैं।

मामूली विवाद में हत्या होना हैरान करने वाली बात 

हत्यारोपी सुनील राठी के अनुसार उसके और मुन्ना के बीच विवाद को लेकर गोलियां चली। उसके मुताबिक मुन्ना ने उसे मोटा बोला जिससे गुस्साकर उसने मुन्ना की हत्या कर दी है। लेकिन गुस्से में किसी में किसी पर 10 गोलियां चलाना किसी को हजम नहीं होई रहा है।

सुनील राठी व मुन्ना के बीच विवाद हो गया था। इसी विवाद में सुनील ने पिस्टल से मुन्ना बजरंगी पर 10 गोलियां चलाईं। सुनील ने पिस्टल को जेल के गटर में फैंक दिया था। पुलिस ने घटनास्थल से 10 खोखे बरामद किए। मुन्ना बजरंगी के शव का पोस्टमार्टम जिला अस्पताल में 4 चिकित्सकों की टीम ने किया। उधर, एडीजी ने सुनील राठी से घंटों पूछताछ की है।

loading...
Loading...

You may also like

हादसा, हकीकत या श्राप का साया है,कालभैरव रहस्य 2

लखनऊ । भारत में मिथक और लोक कथाओं