हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से बस जलकर खाक, क्लीनर झुलसा व यात्री सुरक्षित

हाईटेंशन लाइनहाईटेंशन लाइन

बांदा। बांदा जिले के मटौंध थाना क्षेत्र के दुरेड़ी गांव के पास रविवार को एक प्राइवेट बस के हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से बड़ा हादसा हो गया।  हादसे में बस में सवार जहां 35 लोगों की जान किसी तरह बची, तो वहीं क्लीनर झुलस गया है।  उधर बस पूरी तरह से जलकर खाक हो गई है।  घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।  वहीं मौके पर आलाअधिकारी पहुंच रहे हैं।

11 हजार की हाईटेंशन लाइन की चपेट में आ गई बस

जानकारी के अनुसार ये बस मध्यप्रदेश से बांदा आ रही थी।  इस दौरान ओवरलोड ट्रकों द्वारा सड़क पर जाम के कारण ड्राइवर ने शार्टकट के चक्कर में बस खेत में उतार दी।  यहां खेत से निकलते समय बस 11 हजार की हाईटेंशन लाइन की चपेट में आ गई।  घटना मटौंध थाना क्षेत्र के दुरेड़ी गांव के पास की है।

ये भी पढ़ें :-ABVP बोली योगी का मंत्री करता है दलाली और चोरी, विधानसभा के सामने फूंका पुतला 

हाईटेंशन लाइन की चपेट में आते ही तेज धमाका हुआ और बस बनी आग का गोला

प्रत्यक्षदर्शियों ने बतया कि हाईटेंशन लाइन की चपेट में आते ही तेज धमाका हुआ।  इसके बाद बस में आग लग गई।  दुर्घटना में बस का क्लीनर बुरी तरह झुलस गया।  वहीं बस में करीब 35 लोग सवार थे।  खबर है कि सभी की किसी तरह जान बच गई।

अनियंत्रित कार ने बाइक को मारी टक्कर,पत्नी की मौके पर ही मौत, जबकि पति घायल

वहीं दूसरी और  सुलतानपुर में अनियंत्रित कार ने बाइक को टक्कर मार दी।  ​दुर्घटना में बाइक सवार दम्पत्ति सड़क पर गिरे, जिसके बाद पीछे से आ रहे टैंकर ने दोनों को कुचल दिया।  दुघर्टना में पत्नी की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि पति घायल है।  पता चला कि अंबेडकरनगर निवासी दंप​ति रिश्तेदारी में जा रहे थे।  कादीपुर कोतवाली क्षेत्र मे पावर हाउस के पास ये दुर्घटना हुई।

loading...
Loading...

You may also like

किसानों के आंदोलन की वजह से गयी सरकार- राकेश टिकैत

रामपुर। पूरे मुल्क में किसानों का क़र्ज़ सबसे