Main Sliderख़ास खबरनई दिल्लीराजनीतिराष्ट्रीय

प्रियंका का मायावती पर हमला- सरकार के खिलाफ लड़ने की हिम्मत बनानी पड़ेगी

लखनऊ। चीन के साथ लद्दाख के गलवान घाटी पर बनी तनातनी के बीच देश में सियासत गरमाती जा रही है। कांग्रेस चीन के साथ सीमा विवाद पर लगातार हमला कर रही है। इसके साथ ही कांग्रेस केंद्र की मोदी सरकार पर बातें छुपाने का आरोप लगाते हुए सच बताने की मांग कर रही है। इस बीच मायावती ने चीन के साथ विवाद मुद्दे पर मोदी सरकार का साथ देने का ऐलान किया तो प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि देश की सरजमीं को गवां डाले, उस सरकार के खिलाफ लड़ने की हिम्मत बनानी पड़ेगी।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मायावती के समर्थन के ऐलान पर अपनी टिप्पणी ट्वीट की है। अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘जैसे कि मैंने कहा था कि विपक्ष के कुछ नेता भाजपा के अघोषित प्रवक्ता बन गए हैं, जो मेरी समझ से परे है। इस समय किसी राजनीतिक दल के साथ खड़े होने का कोई मतलब नहीं है। हर हिंदुस्तानी को हिंदुस्तान के साथ खड़ा होना होगा, हमारी सरजमीं की अखंडता के साथ खड़ा होना होगा।’

एलएनजेपी के डॉक्टर असीम गुप्ता की कोरोना से मौत, केजरीवाल सरकार देगी एक करोड़ की सम्मान राशि

उन्होंने अपने अगले ट्वीट में कहा कि और जो सरकार देश की सरजमीं को गवां डाले, उस सरकार के खिलाफ लड़ने की हिम्मत बनानी पड़ेगी।

राजनीति कर रहीं बीजेपी-कांग्रेसः मायावती

इससे पहले उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की प्रमुख मायावती ने चीन के जुड़े मसले पर बीजेपी और कांग्रेस दोनों पार्टियों पर निशाना साधते हुए कहा कि चीन का मसला गंभीर है, लेकिन बीजेपी-कांग्रेस राजनीति में लगी हुई है, ये बिल्कुल ठीक नहीं है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि चीन भी इस राजनीतिक लड़ाई का फायदा उठा सकता है और देश की जनता को इसका नुकसान हो रहा है। देशहित के मसले पर बसपा केंद्र के साथ है, चाहे केंद्र में किसी की भी सरकार हो।

सरकार सच नहीं बता रहीः कांग्रेस

हालांकि मायावती ने पेट्रोल और डीजल के लगातार बढ़ते दामों पर केंद्र पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सरकार लगातार दाम बढ़ा रही है, जिससे आम जनता को घाटा हो रहा है. इसके बाद महंगाई बढ़ने की आशंका भी तेज हो गई हैं।

लद्दाख की गलवान घाटी पर 15 जून की रात हुई हिंसक झड़प के बाद से ही जहां भारत और चीन के बीच तनाव बना हुआ है तो देश में राजनीतिक लड़ाई भी तेज हो गई है।

कांग्रेस की ओर से मोदी सरकार पर लगातार हमला किया जा रहा है। कांग्रेस का आरोप है कि चीन के मसले पर सरकार सच छुपा रही है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन के खिलाफ बोलने से बच रहे हैं।

दूसरी ओर इस विवाद के बीच भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की ओर से कांग्रेस पर हमला तेज कर दिया गया है और उसकी ओर से राजीव गांधी फाउंडेशन-चीन के बीच संबंध को जोड़ा जा रहा है।

loading...
Loading...