सिंगापुर : राहुल गांधी ने मोदी सरकार के क्रांतिकारी फैसलों को बताया कचरा

सिंगापुर
Please Share This News To Other Peoples....

सिंगापुर। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों दक्षिण एशियाई देशों की पांच दिन की यात्रा पर हैं। शनिवार को राहुल ने नोटबंदी को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने मोदी सरकार के क्रांतकारी कदम को कचरा बताया। उन्होंने कहा कि नोटबंदी एक ‘अच्छी पहल नहीं’ थी। अगर वह भारत के पीएम होते तो नोटबंदी के प्रस्ताव को ‘कचरे के डिब्बे’ में फेंक देते। राहुल गांधी के इस बयान को कांग्रेस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से शेयर किया गया है।

पढ़ें:-यूपी में फिर एक बार तोड़ी गयी अम्बेडकर की मूर्ति, इलाके में तनाव का माहौल 

सिंगापुर में इस सवाल पर राहुल गांधी ने नोटबंदी को बताया कचरा

जानकारी के मुताबिक राहुल गांधी से पूछा गया कि अगर आप नोटबंदी को लागू करते तो किस प्रकार करते? इस पर उन्होंने बीजेपी सरकार पर तीखा हमला करते हुए कहा कि अगर वे पीएम होते और कोई उन्हें नोटबंदी करने के प्रस्ताव की फाइल देता तो वे उसे कचरे के डिब्बे में, कमरे से बाहर या कबाड़खाने में फेंक देते उन्होंने कहा कि वे इस तरह इसे (नोटबंदी) लागू करते ही क्यों, क्योंकि उनके हिसाब से नोटबंदी के साथ ऐसा ही किया जाना चाहिए क्योंकि यह किसी के लिए भी अच्छी नहीं है। बता दें कि शनिवार को राहुल ने मलेशिया यात्रा शुरू की और इस दौरान कुआलालंपुर में भारतीय समुदाय के लोगों के साथ बातचीत की उनका इससे जुड़ा एक वीडियो कांग्रेस पार्टी ने अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर किया है।

गौतलब है कि मोदी सरकार ने साल 2016 में 8 नवंबर को नोटबंदी का ऐलान किया था। इसमें 500 और 1000 रुपये के पुराने नोट बंद कर दिए गए थे। जिसका कांग्रेस व अन्य पार्टियों ने विरोध किया था।

पढ़ें:-योगी सरकार के दावे की हवा निकाल रहा है बाराबंकी पुलिस का वायरल वीडियो 

महिला सशक्तिकरण पर बोले राहुल

इस दौरान राहुल गांधी ने महिलाओं और पुरुषों में समानता पर बोलते हुए कहा कि वे महिलाओं को पुरुषों के बराबर नहीं मानते हैं। बल्कि पुरुषों से बेहतर मानते हैं। उनका मानना है कि पश्चिमी समाज समेत सभी समाजों में (महिलाओं के प्रति) एक पक्षपाती सोच है। इस सोच को सुधारे जाने की जरूरत है और इसे ठीक करने के लिए समानता काफी नहीं है। इसके लिए आपको पक्षपाती होना होगा और जितना समर्थन पुरुषों को देते हैं, उससे ज्यादा महिलाओं को देना होगा।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *