कैंसर, किडनी, यकृत तथा स्तन विकृति पर नवीन जांच तथा निदान पर पैथालॉजिस्ट रखेंगें अपनी राय

लखनऊ। केजीएमयू में इण्डिय एसोसिएशन ऑफ पैथालॉजिस्ट के उत्तर प्रदेश कार्यकारिणी तथा केजीएमयू स्थित पैथालॉजी विभाग द्वारा तीन दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें देश व प्रदेश के लगभग 400 पैथालॉजिस्ट हिस्सा ले रहे हैं। इस कार्यक्रम का आयोजन केजीएमय के कलाम सेंटर में किया जायेगा।

केजीएमयू के पैथालॉजी विभाग द्वारा 25वें वार्षिक सम्मेलन में आज मुम्बई के टाटा मेमोरियल हॉस्पिटल के डॉ.सुमित गुजराल ब्लड कैंसर पर अपनी राय रखेंगे। इसके अलावा अहमदाबाद के आईकेडीआरसी से डॉ अरुना वानिकर किडनी कैंसर में हो रहे जांचों के बारे में जानकारी प्रदान करेंगी साथ ही लखनऊ स्थित एसजीपीजीआई की डॉ. मंजुला मुरारी ब्लड कैंसर तथा डॉ.विनीता अग्रवाल द्वारा प्रोस्टेट और मूत्राशय विकृति निदान और उपचार में हालिया उन्नति से संबंधित सभी विषयों पर चर्चा की जानी हैं। वहीं २३ और २४ को मुख्य सम्मेलन का अयोजन होगा। जिसमें इलाहाबाद की डॉ.वत्सला मिश्रा, लखनऊ आरएमएल की प्रो. नुजहत हुसैन, प्रो.शशिकला, प्रो.अमिता जैन, प्रो.मनोज जैन प्रो.एके.मंडल द्वारा गुर्दे के घावों, गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल पैथोलॉजी, डर्माटोपैथोलॉजी, खोजी विषाणु, गुणवत्ता प्रबंधन, टिशू ट्यूमर, यकृत बायोप्सी और स्तन विकृति आदि पर अपने विचार रखेंगे।

बच्चों में होने वाले कैंसर पर होगी चर्चा

इस पूरे कार्यक्रम में बच्चों में होने वाले कैंसर तथा ब्लड कैंसर के इलाज में हालिया उन्नति तथा उसके निदान पर चर्चा की जायेगी। साथ ही इस विषय पर भी चर्चा होगी कि गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों को ही ज्यादातर कैंसर अपना शिकार क्यों बना रहा है।

इस पूरेे कार्यक्रम के आर्गनाइजिंग चेयरपर्सन केजीएमयू के प्रो.आशुतोष कुमार व आर्गनाइजिंग सिक्रेटरी डॉ रश्मि कुशवाह हैं।

loading...

You may also like

यूपी में नागरिक एकता पार्टी सभी लोकसभा सीटों पर लड़ेगी चुनाव

लखनऊ। उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ में नवनिर्मित नागरिक