तनाव दूर करती है, कॉमेडी और फ़िल्में

- in मनोरंजन
तनाव दूरतनाव दूर

लखनऊ। ‘कुंवारा है पर हमारा है’ में मानव के रूप में नजर आ रहे अभिनेता रवीश देसाई का कहना है कि वह कॉमेडी शो में काम का आनंद ले रहे हैं।

यह भी देखें:-ग्राम पंचायत अधिकारी ने लगाई गोमती में छलांग

तनाव दूर करनें पर बोले रवीश देसाई-

  • रवीश ने कहा, “मैं मानव की भूमिका का आनंद ले रहा हूं।
  • मैं कॉमेडी के साथ प्रयोग करना चाहता था।
  • कॉमेडी तनाव दूर करती है
  • जब आप 12-13 घंटे लगातार शूटिंग करते हैं तो भी यह थकाता नहीं है।”
  • उन्होंने कहा, “सेट पर काफी मजा आता है और मूड हल्का हो जाता है।
  • आप हर वक्त हंसते हैं और सभी के साथ बेहद अच्छा समय बिताते हैं।”
  • ‘कुंवारा है पर हमारा है’ 31 वर्षीय मानव के जीवन पर आधारित है, जो अविवाहित है।
  • धारावाहिक का प्रसारण टेलीविजन चैनल बिग मैजिक पर होता है।

वहीँ दूसरी तरफ भारतीय लघु फिल्म ने वैंकूवर में जीता इनाम-

  • भारतीय फिल्म ‘द स्कूल बैग’ वैंकूवर गोल्डन पांडा अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में सर्वोत्तम लघु फिल्म चुनी गई है।
  • फिक्शन इस फिल्म के निर्देशक धीरज जिंदल हैं।
  •  इसकी कहानी पाकिस्तान के पेशावर की पृष्ठभूमि पर है।
  • जिंदल ने एक बयान में कहा।
  • “जब हमने इस फिल्म को बनाने की शुरुआत की, तभी हमने नहीं सोचा था।
  • कि यह फिल्म इतने सारे पुरस्कार जीतेगी।
  • हमारे मजबूत विश्वास ने एक सुंदर आकार लिया।
  • और अब यह लोगों तक पहुंच रही है।
  • कई लोगों की जिंदगियों को छू रही है।
  • हम अभिभूत हैं। धन्यवाद वैंकूवर।
  • पुरस्कार में चीन की सात दिवसीय यात्रा शामिल है।
  • यह समारोह 10 दिसंबर को आयोजित हुआ।
  • ‘द स्कूल बैग’ ने लाहौर अंतर्राष्ट्रीय बाल फिल्म महोत्सव में भी सर्वोत्तम लघु फिल्म का पुरस्कार जीता था।
  • जिंदल को अमेरिका के सिनसिनाटी में भारतीय फिल्म महोत्सव में सर्वोत्तम निर्देशक का पुरस्कार प्रदान किया था।
  • इस फिल्म में, अभिनेत्री रासिका दुग्गल ने सात वर्षीय लड़के के मां का भूमिका निभाई है।
loading...
Loading...

You may also like

‘बड़े अच्छे लगते हैं’ की एक्ट्रेस के घर आई नन्ही परी

आप सभी को बता दें कि मशहूर टीवी