ख़ास खबरराष्ट्रीयव्यापार

रिजर्व बैंक गवर्नर शक्तिकांत दास की घोषणाएं शेयर बाजार को नहीं रास, सेंसेक्स-निफ्टी लुढ़के

नई दिल्ली। रिजर्व बैंक गवर्नर शक्तिकांत दास की घोषणाएं शेयर बाजार को रास नहीं आई। कोरोन वायरस महामारी की वजह से अर्थव्यवस्था को हुए नुकसान की तस्वीर सामने रखे जाने के बाद शेयर बाजार लुढ़क गए। सेंसेक्स करीब 400 अंकों की गिरावट के साथ 30500 के पास आ गया तो निफ्टी 100 से अधिक अंकों की गिरावट के साथ 9 हजार के स्तर से नीचे चला गया।

इससे पहले शेयर बाजार आज गिरावट के साथ खुला। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स आज 110 अंक नुकसान के साथ  30,822.78 के स्तर पर खुला। गुरुवार को यह 30,932 पर बंद हुआ था। वहीं निफ्टी भी आज के दिन के कारोबार की शुरुआत लाल निशान से की।

बता दें दुनियाभर के बाजारों में गुरुवार को गिरावट देखने को मिली। अमेरिकी बाजार डाऊ जोंस 101.78 अंक नीचे 24,474.10 पर बंद हुआ। वहीं, नैस्डैक 0.97 फीसदी गिरावट के साथ 90.89 अंक नीचे 9,284.88 पर बंद हुआ। एसएंडपी 23.10 अंक नीचे 2,948.51 पर बंद हुआ। चीन का शंघाई कम्पोसिट 1.01 फीसदी गिरावट के साथ 28.86 अंक नीचे 2,839.06 पर बंद हुआ।

देश के प्रमुख शेयर बाजार बीएसई को बीते वित्त वर्ष 2019-20 की चौथी तिमाही में 1.94 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ है। इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में एक्सचेंज ने 51.86 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया था।  एनएसई को भेजी सूचना में बीएसई ने कहा कि जनवरी से मार्च 2020 तिमाही के दौरान उसकी कुल आय घटकर 155.79 करोड़ रुपये रह गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में 182.08 करोड़ रुपये रही थी।

बीएसई के निदेशक मंडल ने 17 रुपये प्रति इक्विटी शेयर के अंतिम लाभांश की सिफारिश की है। इसके लिए वार्षिक आम बैठक में शेयरधारकों की मंजूरी ली जाएगी।  पूरे वित्त वर्ष 2019-20 में एक्सचेंज ने 120.61 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया है जो कि इससे पिछले वित्त वर्ष में 199.28 करोड़ रुपये रहा था। वित्त वर्ष के दौरान एक्सचेंज की कुल आय घटकर 630 करोड़ रुपये रह गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष में 687.44 करोड़ रुपये थी।

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अमेरिकी कंपनी केकेआर को 11,367 करोड़ रूपये में जियो प्लेटफार्म्स की 2.32 फीसदी हिस्सेदारी बेचने की शुक्रवार को घोषणा की। बीते एक महीने में मुकेश अंबानी की कंपनी द्वारा किया जाने वाला यह पांचवा बड़ा सौदा है।

loading...
Loading...