RSS के तेवर से पार्टी और सरकार में खलबली

rss
Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) की नाराजगी से बीजेपी और सरकार में खलबली मच गई है। पार्टी कार्यालय में इसको  लेकर बुधवार को हाई लेवल हुई। बैठक में बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पाण्डेय, संगठन मंत्री सुनील बंसल, डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने शिरकत की।

ये भी पढ़े :-पीएम मोदी को महिलाओं ने भेजे एक हजार ‘सेनेटरी पैड’, जानिए क्या है वजह

RSS ने दी संवादहीनता से बचने की हिदायत

  • बीजेपी और यूपी सरकार के बीच RSS की लखनऊ में मंगलवार को समन्वय बैठक हुई थी।
  • बैठक में RSS ने कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए संवादहीनता से बचने की हिदायत दी है।
  • बैठक के बाद बुधवार को उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा कि समन्वय पर चर्चा हुई।
  • इस दौरान कार्यकर्ताओं की भूमिका पर भी चर्चा की गई।
  • बैठक के बाद डिप्टी सीएम RSS की नाराजगी व मंत्रिमंडल फेरबदल पर बोलने से बचे।
  • उन्होंने कहा कि इन्वेस्टर मीट जैसे आयोजनों पर चर्चा की गई।
  • प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय ने भी कहा समन्वय पर बात हुई।
  • वह भी फेरबदल पर बोलने से बचते नजर आए।
  • संघ की तरफ से प्रदेश सरकार के मंत्रियों पर नाराजगी जाहिर की थी।

कैबिनेट और बीजेपी के संगठन के पुनर्गठन पर चर्चा

  • इसके साथ ही कैबिनेट और बीजेपी के संगठन के पुनर्गठन पर भी चर्चा हुई।
  • बीती शाम हुई मैराथन बैठक में RSS ने कार्यकर्ताओ की उपेक्षा और सरकार के कामकाज के रवैये पर नाराजगी जाहिर की थी।
  • सीएम आवास पर हुई बैठक में आरएसएस के सह सरकार्यवाह दत्रात्रेय होसबोले, डॉ कृष्णगोपाल, क्षेत्र प्रचारक शिवनारायण के साथ सीएम योगी आदित्यनाथ और प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय, संगठन महामंत्री सुनील बंसल व डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा शामिल हुए।
  • बैठक में कई अफसरों के सरकार से नजदीकी प्रचारित कर मनमाने ढंग से कार्य करने की बात भी सामने आई।

खनन के मामले में प्रदेश भर से शिकायतें

  • मिली जानकारी के अनुसार अफसर संगठन से जुड़े कार्यकर्ताओं को तरजीह नहीं दे रहे हैं।
  • खनन के मामले में प्रदेश भर से शिकायतें आ रही हैं।
  • सरकार ने खनन को लेकर तमाम कदम जरूर उठाए हैं
  • लेकिन अभी भी उत्पीड़न और अवैध खनन की तमाम शिकायतें आ रही हैं।
  • जिनमें कई अफसरों के शामिल होने की भी बात है।

नगर निकाय प्रदर्शन को लेकर भी संघ नाखुश

  • इसके अलावा नगर निकाय में प्रदर्शन को लेकर भी संघ ज्यादा खुश नहीं दिखा।
  • संघ ने कहा है कि चुनाव में जो भी कमियां रह गई हैं।
  • उनका विश्लेषण करने की सख्त आवश्यकता है।
  • अगर ऐसा नहीं हुआ तो लोकसभा चुनाव में पार्टी का प्रदर्शन ठीक नहीं रहेगा।
  • हिदायत दी गई कि कई जगह सरकार और संगठन के बीच तारतम्य में कमी देखने को मिल रही है।
  • संवादहीनता की स्थिति पैदा नहीं होने दें।
  • संगठन और सरकार की मजबूती के लिए कार्यकर्ताओं का उचित समायोजन जरूरी है।

Related posts:

नाबालिग पत्नी से शारीरिक संबंध बनाया तो माना जाएगा रेप
मोदी को बंदर कहने वाला कांग्रेस नेता, जला रहा है बीजेपी की लंका   
5997 लोगों ने हज समिति को दिया आवेदन
वृद्घ महिला का शव नाले में उतराता मिला
मायावती के करीबी आरके चौधरी ने थामा अखिलेश का दामन...
देवबंद द्वारा बुर्के पर दिए फतवे पर राजनीतिक हलचल तेज़...
सौतेली मां ने 21 साल की बेटी के टुकड़े कर बाथरूम में छुपाया
दीवालिया होगी मोदी की कंपनी, फायरस्टार डायमंड इंक ने बैंकरप्सी कोर्ट में किया आवेदन
उप्र का तापमान चढ़ा, लखनऊ का पारा पहुंचा 40 के पार
योगी के मंत्री बोले- राजपूत और यादव सबसे ज्यादा पीते हैं शराब, ये उनका पुश्तैनी कारोबार
लोकसभा चुनाव: राहुल के पीएम बनने की इच्छा पर अखिलेश ने दिया बड़ा बयान
अवॉर्ड मिलने के बाद भावुक हुए विराट कोहली,अनुष्का को बताया अपना लकी चार्म

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *