मोदी सरकार ने प्रचार के लिए पानी की तरह बहाए 4,343 करोड़ रूपए

मोदी सरकार
Please Share This News To Other Peoples....

नई दिल्ली। केन्द्र की मोदी सरकार ने पिछले चार में प्रचार-प्रसार में देश की जनता का पैसा पानी तरह बहाया है। ये खुलासा हाल ही में आरटीआई द्वारा किया गया है। आरटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक मोदी सरकार ने पिछले चार साल के शासन काल में प्रचार के लिए कुल 4343 करोड़ रुपये खर्च किए हैं।

पढ़ें:- कर्नाटक चुनाव रुझानो पर कांग्रेस नेता अशोक गहलोत ने दिया चौकाने वाला बयान 

मोदी सरकार ने प्रचार के लिए पानी की तरह बहाया पैसा

आरटीआई से मिली जानकारी के मुताबिक केंद्र की सत्ता में 2014 मई में आने के बाद से लेकर अब तक मोदी सरकार ने प्रचार में पर 4,343 करोड़ रूपए खर्च किए हैं। यह जानकारी सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के तहत आने वाली एजेंसी ब्यूरो ऑफ आउटरिच कम्युनिकेशन ने मुंबई के आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली के आरटीआई आवेदन पर दी है। एजेंसी में ये भी बताया गया है कि मोदी सरकार ने यह राशि प्रिंट और इलेक्ट्रोनिक मीडिया के अलावा आउटडोर प्रचार पर खर्च किया है।

पढ़ें:- केंद्रीय मंत्रिमंडल में बड़ा फेरबदल, स्मृति इरानी से छिन गया सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय 

आरटीआई की तरफ से बताया गया है कि केंद्र सरकार ने अपने कार्यक्रमों के विभिन्न मीडिया मंचों पर विज्ञापन पर 4,343.26 करोड़ रूपये खर्च किए। जिसमें एक जून 2014 से सात दिसंबर 2017 के बीच प्रिंट मीडिया में विज्ञापनों पर 1732.15 करोड़ रूपए खर्च किए गए है। वहीं इलेक्ट्रोनिक मीडिया में एक जून 2014 से 31 मार्च 2018 के बीच 2079.87 करोड़ रूपए खर्च किये गए हैं। जून 2014 से जनवरी 2018 के बीच आउटडोर विज्ञापनों पर 531.24 करोड़ रूपए खर्च किए गए। एजेंसी के वित्तीय सलाहकार तपन सूत्रधार ने खर्च का ब्यौरा दिया।

इस प्रचार में प्रिंट मीडिया में समाचार पत्र, पत्रिकाएं, इलेक्ट्रोनिक मीडिया में टीवी, इंटरनेट, रेडियो, डिजिटल सिनेमा, एसएमएस आदि शामिल हैं। आउटडोर विज्ञापनों में पोस्टर, बैनर, होर्डिंग, रेलवे टिकट आदि आते हैं।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *