मुन्ना बजरंगी के बाद अगला नंबर किसका? मुख्तार की सुरक्षा को लेकर परिजन चिंतित

मुख्तार

लखनऊ। माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या के कुछ दिन बाद ही जेल में बंद एक अन्य डॉन मुख्तार अंसारी के परिजनों ने उसकी सुरक्षा को लेकर चिन्ता व्यक्त की है। मुख्तार के भाई अफजाल ने कहा कि जहां तक सुरक्षा का प्रश्न है। योगी सरकार से सुरक्षा को लेकर कोई उम्मीद नहीं की जा सकती।

अफजाल बोले योगी सरकार से खत्म हो चुका है इक़बाल 

मुख्तार अंसारी के भाई अफजाल ने सवाल उठाया कि इस सरकार से कोई उम्मीद है क्या? सभी उम्मीदें खत्म हो चुकी हैं। उन्होंने कहा कि  मुख्तार जब उत्तर प्रदेश विधानसभा सत्र में शामिल हो रहे थे। तो उन्होंने कहा था कि उनके जीवन को खतरा है,लेकिन सवाल यह है कि सुरक्षा किससे मांगी जाए। जब मुख्यमंत्री खुद ही सदन में कह रहे हैं कि ‘ठोक दिया जाएगा’ तो पुलिस वस्तुत: फर्जी मुठभेड़ें कर रही है।

ये भी पढ़ें :-बाबरी मस्जिद को हिंदू तालिबान ने किया नष्ट : सुन्नी वक्फ बोर्ड 

यूपी में कानून फ़ेल,दुष्कर्म और हत्या की घटनाएं बढ़ी

अफजाल ने दावा किया कि राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति में गिरावट आई है। दुष्कर्म और हत्या की घटनाएं रोजाना हो रही हैं। बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह ने 29 जून को एक प्रेस वार्ता में दावा किया था कि उनके पति के जीवन को खतरा है। इसके बाद उनकी जेल में हत्या कर दी जाती है।

मुन्ना बजरंगी की हत्या के साक्ष्य मिटाए, हत्यारे सुनील को अब बागपत  से लखनऊ जेल  में शिफ्ट करने की तैयारी

इस बीच बागपत के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरोपी सुनील राठी ने बजरंगी को मारने के बाद सभी साक्ष्य मिटा दिए थे। उत्तर प्रदेश सरकार मुन्ना बजरंगी के हत्यारे सुनील राठी को अब बागपत जेल से लखनऊ जेल  में शिफ्ट कर सकती है। यह निर्णय जेल के अफसरों ने लंबी बैठक के बाद ये फैसला किया है। मुन्ना बजरंगी की जेल में हत्या के बाद बदला लेने के लिए राठी पर भी हमला हो सकता है। जेल के एडीजी चंद्र प्रकाश ने कहा कि राठी को बागपत जेल में अब किसी भी हालत में नहीं रखा जा सकता है। बतातें चलें कि बजरंगी को बांदा जेल में बंद बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी का दाहिना हाथ माना जाता था।

loading...

You may also like

राफेल डील पर ओलांद के खुलासे पर विपक्ष का हमला, कहा- पीएम ने धोखा दिया

नई दिल्ली। राफेल डील पर फ्रांस के पूर्व