अब ‘नाविक’ पहुंचाएगा आपको अपनी मंजिल तक

नाविक'नाविक'

नई दिल्ली। अब गूगल मैप की तर्ज पर देशी डिजिटल मैप नाविक आ गया है जो अंजान लोंगो को उनकी मंजिल तक पहुंचाएगा। अब एक क्लिक पर ‘नाविक’ भटके हुए लोगों को रास्ता बतायेगा। अक्सर ऐसा होता है कि जब भी हम कहीं जाते हैं हमें रास्ता नहीं मालूम होता तो हम गूगल मैप का सहारा लेते हैं इसके जरिये हम आसानी से अपनी मंजिल तक पहुंच जाते हैं। गूगल मैप की वजह से हमें रास्ता ढूढने में कोई दिक्कत नहीं होती। अब गूगल मैप के लिए एक देशी डिजिटल मैप आ गया है। आपको अपनी मंजिल तक पहुंचने के लिए Google Map पर डिपेंड नहीं रहना पड़ेगा। बल्कि सिर्फ एक क्लिक पर आप देसी डिजिटल मैप ‘नाविक’ के सहारे अपनी मंजिल तक का सफर तय कर पाएंगे।

सुरक्षा कारणों से इंडिया लेकर आ रहा ‘नाविक’ मैप

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) और इंफोर्मेशन टेक्नॉलॉजी (IT) डिपार्टमेंट ने मिलकर भारतीय क्षेत्रीय नेविगेशन सैटेलाइट सिस्टम का काम कर रहे हैं। ये प्रोजेक्ट अपने अंतिम चरण में है। इसे ‘नाविक’ नाम दिया गया है। चीन ने सुरक्षा कारणों से गूगल पर बैन लगा रखा है। माना जा रहा है कि इंडिया भी सुरक्षा कारणों के लिहाज से ही अपना डिजिटल मैप लेकर आ रहा है। इस प्रोजेक्ट से जुड़े एक अधिकारी के मुताबिक गूगल और नाविक मैप के इस्तेमाल के तरीके में कोई अंतर नहीं होगा। इसे ना सिर्फ भारत में बल्कि भूटान, पाकिस्तान और श्रीलंका जैसे पड़ोसी देशों में भी इस्तेमाल किया जा सकेगा।

 

loading...
Loading...

You may also like

विधान परिषद सभापति रमेश यादव के बेटे अभिजीत की गला घोंटकर हत्या

लखनऊ। विधान परिषद सभापति रमेश यादव के बेटे