पाकिस्तान के झूठ को सुषमा स्वराज के बयान से मिली संजीवनी

सुषमा स्वराजसुषमा स्वराज

नई दिल्ली। पाकिस्तान की समझ को लेकर एक बार फिर सवाल खड़े हो रहे हैं, आपको बता दें कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज द्वारा अहमदाबाद के एक कार्यक्रम में दिए बयान कि हमने एयर स्ट्राइक के लिए सेना को खुली छूट दी थी और इस बात का विशेष ध्यान रखने के लिए कहा था कि पाकिस्तानी सेना और आम नागरिकों को किसी तरह ही चोट नहीं आनी चाहिए.

ये भी पढें : मैं रामपुर आ रहा हूं आजम, तुम्हारी खबर लेने – अमर सिंह 

बता दें कि पाकिस्तान ने इस बयान को कुछ और ही समझ लिया और इस बात का दावा करने लगा कि हमने तो पहले ही कहा था कि भारतीय वायुसेना द्वारा जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी संगठनों पर की गई कार्रवाई झूठ है, बता दें कि इसके साथ ही पाक का कहना है कि उरी हमले को लेकर भी झूठ फैलाया गया था।

ये भी पढें : मेरे रग-रग में राम, कण-कण में कृष्ण : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 

जानकारी के अनुसार झूठी तारीफों के पुल बांधते हुए पाकिस्तान के सेना प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्विटर पर लिखा है कि आखिरकार जमीनी हकीकत सामने आ गई है, बता दें कि उम्मीद है भारत अपने झूठे दावों की हकीकत भी बताएगा जैसे कि 2016 में की गई सर्जिकल स्ट्राइक, पाकिस्तान वायुसेना द्वारा भारतीय वायुसेना के दो विमानों को गिराने से इनकार करना और एफ16 को लेकर किया गया दावा देर आए दुरुस्त आए।

आपको बता दें कि  अपने भाषण के दौरान विदेश मंत्री स्वराज का नागरिक शब्द से मतलब निर्दोष नागरिकों से था, जिसे गलत अनुवाद होने की वजह से कुछ और समझा गया, बालाकोट एयर स्ट्राइक में बड़ी संख्या में जैश के आतंकी मारे गए थे लेकिन इसमें कोई नागरिक और जवान की मौत नहीं हुई थी। आपको बता दें कि स्वराज ने एयर स्ट्राइक को आत्म रक्षा में किया हमला बताया.

ये भी पढें : कांग्रेस नेता उर्मिला मातोंडकर : मोदी के अधूरे वादों पर कॉमेडी फिल्म बननी चाहिए 

सुषमा स्वराज ने कहा कि पुलवामा हमले के बाद जब हमने सीमा पार हवाई हमला किया तो हमने अंतरराष्ट्रीय समुदाय को बताया कि हमने केवल आत्म रक्षा में ऐसा कदम उठाया है, हमने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से कहा था कि सशस्त्र बलों को निर्देश दिया गया था कि हमले में किसी भी पाकिस्तानी नागरिक या सैनिक को नुकसान नहीं हो।

Loading...
loading...

You may also like

चुनाव परिणाम से पहले सेबी ने शेयर बाजारों की निगरानी व्यवस्था चाक-चौबंद की

🔊 Listen This News नयी दिल्ली।  नियामक सेबी