यौन शोषण का आरोप लगाने वाली युवती से SDM ने की शादी, कई अफसरों ने दी गवाही

यौन उत्पीड़न का आरोप
Loading...

कुशीनगर। हैपी इंडिंग…अगर सब ठीक न हो तो वह दि इंड नहीं…पिक्चर अभी बाकी है मेरे दोस्त। ओम शांति ओम फिल्म का यह डायलॉग याद है न? ऐसा ही वाक्या कुशीनगर में हुआ। यौन शोषण के आरोपों में घिरे खड्डा तहसील के पूर्व एसडीएम ने साथी अफसरों के समझाने-बुझाने पर अपनी गलती को स्वीकार किया। यही नहीं उन्होंने यौन शोषण के आरोप लगाने वाली लड़की से शादी भी की। दिनेश कुमार खड्डा तहसील में तैनात थे। हाल ही में उनका तबादला कुशीनगर से हापुड़ जिले में हो गया। दिनेश अपना सामान लेने के लिए कुशीनगर आए हुए थे।

शुक्रवार सुबह 11 बजे एक युवती जिलाधिकारी के कार्यालय पर पहुंची। युवती ने आरोप लगाया कि एसडीएम साहब चार साल से उसके साथ लिव इन में रह रहे थे। उसने शादी के लिए कहा तो 50 लाख रुपये दहेज की मांग करते हुए इनकार कर दिया है। युवती का आरोप था कि लिव इन के दौरान उन्होंने शादी का झांसा देकर मेरा यौन शोषण किया। गर्भवती होने पर अबॉर्शन भी करवाया। इतना ही नहीं शादी के लिए ज्यादा जोर देने पर उसकी पिटाई भी की।

युवती के आरोप सुनकर डीएम कार्यालय में अधिकारी अवाक रह गए। सभी अफसर युवती को समझाते रहे कि किसी तरह मामले सुलट जाए, लेकिन वह एसडीएम से शादी करने पर अड़ी रही। आखिरकार अपना सामान लेने कुशीनगर आए दिनेश कुमार को डीएम कार्यालय बुलाया गया। अब दिनेश को समझाए जाने की बारी थी। अफसरों ने उनसे कहा कि आरोप गंभीर है और करियर का भी सवाल है।

आखिरकार एसडीएम साहब मान गए। शुक्रवार-शनिवार रात एक बजे गायत्री मंदिर में पुजारी सुरेश मिश्रा ने बकायदा हिंदू रीति रिवाज से दोनों की शादी करवाई। इस मौके पर सदर एसडीएम रामकेश यादव , हाटा के एसडीएम प्रमोद तिवारी समेत कुछ अन्य अधिकारी भी उपस्थिति रहे।

Loading...
loading...

You may also like

दिवाली पर अलग उपायों को करने से बढ़ने लगती है आमदनी, इस बार जरूर अपनाएं

Loading... 🔊 Listen This News दिवाली के दिन