बिहार में सीटों के बंटवारे पर एनडीए में फूट, भाजपा इस पार्टी को नहीं देगी एक भी सीट

एनडीएएनडीए

पटना। लोकसभा चुनाव से पहले एनडीए में सीटों के बंटवारे को लेकर अब तस्वीर साफ़ होती हुई नजर आ रही है। इसमें एक दल को बाहर किये जाने की खबर सुर्खियों में बनी हुई है। सूत्रों की माने तो सीटों का बंटवारा केवल तीन दलों के बीच होने वाला है। जिसमें भाजपा, जदयू और लोजपा शामिल है। वहीं कुशवाहा के बागी तेवर को देखते हुए एनडीए से उन्हें बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है।

एनडीए में ये हो सकता है सीटों के बंटवारे का फार्मूला

सूत्रों की माने तो उपेंद्र कुशवाहा को एनडीए से बाहर किये जाने की स्थिति में भाजपा 20, जदयू 15 और लोजपा 5 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। बताया जा रहा है कि भाजपा एक साथ एनडीए के सभी घटक दलों को बातचीत में शामिल नहीं करके, सभी से अलग-अलग बात करेगी। भाजपा बिहार की 40 सीटों में 20 पर लड़ना चाहती है।

बता दें कि भाजपा ने 2014 में 30 सीटों पर उम्मीदवार खड़े किए थे। जिसमें उसे 22 सीटों पर जीत हासिल हुई थी। लेकिन जदयू के एनडीए में दोबारा शामिल होने के बाद बीजेपी जीती हुई। सीटों में भी दो सीटें सहयोगी को देने पर राजी है।

पढ़ें:- बिहार में राजद-कांग्रेस से जीतन राम मांझी ने मांगी इतनी सीटें

जदयू के साथ बनी सहमति

सूत्रों की माने तो जदयू के साथ पर्दे के पीछे हुई बातचीत में 15 सीटें देने पर सहमति बनी। नीतीश कुमार की जदयू 2014 के चुनाव में सिर्फ दो सीटों पर सिमट गई थी। भाजपा लोजपा को चार सीटों का प्रस्ताव करेगी और दो सीटें उपेंद्र कुशवाहा के लिए छोड़ेगी।

loading...
Loading...

You may also like

माकपा नेता का बड़ा बयान, कहा- पीएम मोदी केरल में हिंसा को भड़का रहे

नई दिल्ली। माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी(माकपा) के एक शीर्ष