बलात्कार के दोषी को सजाए मौत…पार कर दी थीं सारी हदें…

Please Share This News To Other Peoples....

तिरुवनन्तपुरम। केरल मे एक दलित महिला के साथ बलात्कार करने और उसकी हत्या करने वाले अमीरुल इस्लाम को अदालत ने मौत की सज़ा सुनाई है, ऐसे जालिमाना कुकर्म को अंजाम देने वाले अमीरुल को एर्नाकुलं की एक अदालत ने मुजरिम ठहराया है।

यह भी पढ़ें :शर्मसार : चार वर्षीय बच्चे के साथ सामूहिक दुष्कर्म

अदालत के फैसले से बलात्कार पीडिता की माँ खुश हैं 

  • कोर्ट का फैसला आने के बाद खुशी जताते हुए जिशा की मां ने कहा कि अब जाकर उनकी बेटी को न्याय मिला है।
  • किसी भी लड़की के साथ ऐसी बर्बरता नहीं होनी चाहिए।
  • जांच अधिकारी एसआईटी की हेड ADGP बी संध्या ने कहा कि हमने कोर्ट के सामने वैज्ञानिक सबूत पेश किए थे।
  • असम के रहने वाले अमीर-उल-इस्‍लाम के खिलाफ आईपीसी और एसटी/एससी एक्ट के विभिन्न वर्गों के तहत मामला दर्ज किया गया था।
  • जांच के दौरान 100 से ज्यादा गवाहों की जांच हुई थी।
  • इस घिनौनी वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए दोषी को 50 दिनों के बाद पुलिस ने तमिलनाडु में पकड़ा था।
  • साल 2016 में एर्नाकुलम में दिल्ली के निर्भयाकांड की तरह दलित छात्रा के साथ हैवानियत हुई थी।
  •  इस केस में मौत की सजा पाए अमीर-उल-इस्‍लाम ने जिशा के साथ बलात्कार किया था।
  • इस घिनौने कृत्य में उसने हैवानियत की सारी हद पार कर दी थीं।
  • दोषी ने पीड़िता के प्राइवेट पार्ट को क्षतिग्रस्त करके उसकी आंत बाहर निकाल दी।
  • इस हैवानियत की घटना से पूरे देश में आक्रोश फ़ैल गया था।
  •  सरकार के आदेश पर एसआईटी टीम गठित की गई।
  • तकरीबन करीब 50 दिन बाद दोषी कोतमिलनाडु के कांचीपुरम से गिरफ्तार किया गया।
  • मामले की एर्नाकुलम की एक अदालत में सुनवाई चली।

बलात्कार का आरोपी ने किये थे हैवानियत वाले काम 

  • पूछताछ में दोषी ने बताया था कि बकरी और कुत्ते सहित कई जानवरों के साथ भी रेप किया करता था।
  •  इन जानवरों से जब उसका मन जब भर जाता, तो वह उनको मार देता था।
  • उसके मोबाइल से कई अश्लील वीडियो मिले थे।
  • वीडियो में वह जानवरों का यौन शोषण करता दिखाई दिया था।
loading...

One thought on “बलात्कार के दोषी को सजाए मौत…पार कर दी थीं सारी हदें…”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *