लखनऊ : स्वास्थ्य केंद्र कर्मचारी के साथ रेप का प्रयास, शिकायत करने पर हुआ तबादला

- in उत्तर प्रदेश, क्राइम
स्वास्थ्य केंद्रस्वास्थ्य केंद्र

लखनऊ। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मियागंज उन्नाव में कार्यरत बेसिक हेल्थ वर्कर महिला के पद पर कार्यरत अनीस बानों ने महानिदेशक परिवार कल्याण उत्तर प्रदेश को लिखित शिकायत दर्ज करायी है। उनका आरोप  है कि उसेक साथ कनिष्ठ सहायक मनोज चौरसिया ने 21 अगस्त 2018 को बुरी नियत के साथ हमला करते हुए रेप का प्रयास किया एवं जाति सूचक सम्बोधन के साथ अश्लील वार्ता करते हुए धमकी देते हुए मारपीट की है। उनका आरोप है कि किसी तरह उक्त बाबू के चंगुल से छुटी पीडिता ने स्थनीय पुलिस असीवन थाने में शिकायत कर एफआईआर दर्ज कराने गई तो विभागीय मामला कहकर रिपेार्ट दर्ज नही की गई।

स्वास्थ्य केंद्र कर्मचारी ने शिकायत की तो हुआ तबादला

ऐसी स्थिति स्वंय ही मेडीकल परीक्षण कराया। पीड़िताका इस शिकायत के आधार पर डा. सुनील रावत रंयुक्त निदेशक के नेतृत्व में गठित समिति के समक्ष लिखित बयान भी 13 सितम्बर को दर्ज हो गया है। पीड़िताकी मांग है कि उसका तबादला निरस्त करते हुए आरोपी बाबू के खिलाफ एफआईआर दर्ज करते हुए कठोर कार्रवाई की जाए।पीडिता ने महानिदेशक परिवार कल्याण को लिखित रूप से कनिष्ठ बाबू के खिलाफ शिकायत देते हुए गत 16 अगस्त को सीएमओ साहब ने मियागंज स्वास्ध्थ्य केन्द्र का निरीक्षण किया था। उस दौरान मैने शिकायत दर्ज कराई थी। इसी बॉत से नाराज उक्त बाबू ने मुझे भद्दी भद्दी गालिया देते हुए जाति सूचक शब्दों का प्रयोग करते हुए धमकाया था कि मेरा क्या कर लिया। इस दौरान धमकी दी कि तुम्हारा तबादला करा दूंगा।

ये भी पढ़ें : बिग बॉस 12 में आ रही है यह हॉट इंडियन सिंगर, देखें तस्वीरें 

सर्विस बुक गायब करा दी

पीड़िता का आरोप है कि उक्त बाबू का कहना है कि सभी अन्य स्वास्थ्य केंद्र कर्मचारी जब पैसा देती है तो तूम क्यो नही देती। मुझसे रंजिशन ही मेरी सर्विस बुक और जीपीएफ पास गायब करा दी और इसे बनाने के लिए बीस हजार रूपये का खर्चा बताया इसके एवज में अन्य अमर्यादित मांग रखी। यही नही सीएमओं साहब के6 अगस्त 18  के निर्देश के बाद उक्त बाबू ने 2 सितम्बर 18 को मेरी सर्विस बुक और जीपीएफ पासबुक बनाई।

स्वास्थ्य केंद्र कर्मचारी ने बताया कि 21 अगस्त को मेरे साथ बुरी नियत से हमला करते हुए मारपीट और अशोभनीय वार्ता के उपरान्त मेरी शिकायत पर उक्त बाबू के खिलाफ कार्रवाई न करते हुए मुख्य चिकित्साधिकारी उन्नाव ने पीडिता का ही तबादला 10 सितम्बर को मियागंज प्राथमिक स्वास्थ केन्द्र से प्राथमिक स्वास्थ केन्द्र हिलौली कर दिया। स्वास्थ्य केंद्र कर्मचारी ने इस आशय की लिखित शिकायत राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद को देते हुए कार्रवाई की मांग की है। पीडिता की मांग है कि उसके साथ गलत हुए है, ऐसे में सबसे पहले उसका तबादला निरस्त करते हुए उक्त बाबू के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए उसके साथ न्याय किया जाए।

loading...
Loading...

You may also like

नशे में धुत रईसजादों ने बीच सड़क पर जमकर की मारपीट…

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में नशे