भोपाल: शेल्टर होम में मूक बधिर बच्चों के साथ यौन उत्पीडऩ, आरोपी गिरफ्तार

शेल्टर होमशेल्टर होम

भोपाल। देश में एक के बाद एक शेल्टर होम में यौन शोषण की मामले सामने आ रहे हैं। बिहार के मुजफ्फरपुर और यूपी के देवरिया के बाद अब ताजा मामला मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल का है। जहां पर मूक बधिर बच्चों के यौन उत्पीडऩ का मामला सामने आया है। इस मामले में संचालक पर यौन उत्पीडऩ और तीन बच्चों की हत्या का आरोप लगा है। पुलिस ने मामले में कार्रवाई करते हुए आरोपी संचालक को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी कुल चार हॉस्टल का संचालन करता है।

यौन शोषण का आरोप चलाता है चार शेल्टर होम

जानकारी के मुताबिक इस मामले में आरोपी संचालक जिसकी उम्र 70 बतायी जा रही है। वह चार शेल्टर होम चलाता था उस पर च्चों और उनकी इंटरप्रेटर ने संचालक पर तीन बच्चों की हत्या का भी आरोप लगाया है। आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

शेल्टर होम में वर्ष 2003 से अनाथ बच्चे रह रहे हैं। फिलहाल कुल 100 बच्चे मौजूद हैं, जिसमें 42 लडक़े और 58 लड़कियां हैं। इस संस्थान को पिछले 15सालों से सरकारी मदद मिल रही थी। आरोपी हॉस्टल संचालक सेना के रिटायर्ड है।

बता दें कि इससे पहले पिछले महीने भी भोपाल में एक हॉस्टल के निदेशक पर 20 साल की मूक-बधिर जनजातीय समुदाय की लडक़ी का रेप करने का आरोप लगा था।

पढ़ें:- बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री के घर से चोरों ने उड़ाए लाखों के आभूषण व् नकदी

इंटरप्रेटर के साथ सोशल जस्टिस विभाग पहुंचे बच्चे

इस मामले में सोशल जस्टिस विभाग के निदेशक कृष्ण मोहन तिवारी का कहना है कि कुछ मूक-बधिर बच्चे अपने इंटरप्रेटर के साथ उनके ऑफिस आये थे। उन्होंने हॉस्टल संचालक पर यौन उत्पीडऩ का आरोप लगाया है और पत्र सौंपा है। बताया जा रहा है कि हॉस्टल में कुल चार टीचर हैं, लेकिन पिछले 10 वर्षों से कोई वार्डन नहीं है।

loading...
Loading...

You may also like

BJP की कमल संदेश यात्रा के दौरान बाल-बाल बचे डिप्टी सीएम

लखनऊ। आज प्रदेश भर में भारतीय जनता पार्टी