BREKING: मध्य प्रदेश में शिवराज का मैजिक फेल, कांग्रेस को भारी बढ़त

मध्य प्रदेश।  मध्य प्रदेश के चित्रकूट विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में मिल रही हार के बाद भाजपा अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान ने कहा कि नतीजों की समीक्षा होगी। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस को परंपरागत सीट होने का फायदा मिला है।

चुनाव में समाज के मुद्दों पर मतदाताओं को जागरूक करने के लिए चलाया गया अभियान

भाजपा अध्यक्ष ने जनादेश स्वीकार करते हुए कहा कि उनकी पार्टी ने उम्मीदवार के चयन में गलती होने की बात पर सीधे तौर कोई  जवाब नहीं दिया। उन्होंने कहा कि नतीजों की समीक्षा होगी।  बतातें चलें  कि मध्य प्रदेश के चित्रकूट विधानसभा की मतगणना में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का मैजिक फेल होते दिख रहा है।  मुख्यमंत्री चौहान ने जिन इलाकों में चुनावी सभाएं की थीं, उनमें अधिकांश जगह पर कांग्रेस के उम्मीदवार को बढ़त मिली है।

मुख्यमंत्री चौहान ने चित्रकूट विधानसभा चुनाव के लिए अर्जुनपुर, बरौधा, प्रतापगंज, हिरौधी, पिडरा, मझगवा में चुनावी सभाओं को संबोधित किया था।  यहां सभी जगह पर भाजपा के प्रत्याशी शंकर दयाल त्रिपाठी पिछड़ गए हैं।  कांग्रेस उम्मीदवार नीलांशु चतुर्वेदी ने इन सभी जगहों पर भारी 18 हजार बढ़त हासिल कर चुके  हैं ।  खासबात ये है कि सत्ताधारी भाजपा के लिए चित्रकूट सीट से मिथक जुड़ा है और वो यह है कि चित्रकूट में आज तक भाजपा का दूसरी बार जीत का सपना नहीं पूरा होना।

चुनाव में ड्यूटी के दौरान मरने वालों के परिजनों को मिलेंगे 10 लाख

9 महीने पहले हुए उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा ने यूपी के चित्रकूट विधानसभा सीट पर जीत का परचम लहराया था अब बारी है एमपी के चित्रकूट विधानसभा सीट पर हो रहे उपचुनाव की।  हालांकि भाजपा ने जीत हासिल करने के लिए प्रचार में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है। बीते 27 सालों में इस सीट पर हुए छह चुनावों में बीजेपी।  महज एक बार ही वो भी महज 722 वोटों से जीत सकी थी।

loading...

You may also like

पूर्व कांग्रेस सांसद पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज, पीएम मोदी पर अपशब्द का इस्तेमाल

लखनऊ। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आपत्तिजनक