जूता-मोजा का अभी बच्चों को करना होगा इंतजार, चार ब्लॉकों में नहीं हुई आपूर्ति

लखनऊ । बेसिक शिक्षा परिषद के प्राइमरी और जूनियर स्कूलों में पढऩे वाले कक्षा एक से आठ तक के बच्चों को चुनाव बाद नि:शुल्क जूता-मोजा वितरित किया जाएगा। मौजूदा समय में चुनाव आचार संहिता लागू होने की वजह से वितरण नहीं किया जा सकता।

बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रवीण मणि त्रिपाठी का कहना है कि चार ब्लॉक में जूते की आपूर्ति हो चुकी है। जल्द ही अन्य ब्लॉकों में भी आपूर्ति हो जाएगी। चुनाव बाद बच्चों में इसका वितरण सुनिश्चित कराया जाएगा। मौजूदा समय में राजधानी में राजकीय, एडेड, परिषद व मदरसों को मिलाकर 2031 स्कूलों में तकरीबन दो लाख 9 हजार बच्चे पंजीकृत हैं। इनमें से 1840 परिषदीय विद्यालयों में  एक लाख 67 हजार बच्चों को यह सुविधा दी जानी है।

बीते दिनों बेसिक शिक्षा निदेशक ने निर्देश जारी किए थे कि जूतों एवं मोजों का विद्यालयवार वितरण कराए जाने की व्यवस्था खंड नगर शिक्षा अधिकारी द्वारा सर्वोच्च प्राथमिकता पर सुनिश्चित की जाए, लेकिन राजधानी सहित कई जिलों में जूता-मोजा का वितरण कार्य नहीं कराया गया। जिस पर बेसिक शिक्षा निदेशक ने नाराजगी जताई। बेसिक शिक्षा निदेशक डॉ. सर्वेंद्र विक्रम सिंह की ओर से भेजे गए पत्र के मुताबिक सैम्पल टेस्टिंग की रिपोर्ट संतोषजनक होने की स्थिति में सभी जूतों एवं मोजों का विद्यालयवार वितरण कराए जाने की व्यवस्था खंड एवं नगर शिक्षा अधिकारी सर्वोच्च प्राथमिकता पर सुनिश्चित करें। यदि रिपोर्ट संतोषजनक न हो तो आपूर्तिकर्ता को 15 दिन के अंदर वितरित किए गए जूता-मोजा को विद्यालय स्तर से वापस लेकर उतनी ही संख्या में जूते-मोजे विद्यालय में उपलब्ध कराने होंगे।

loading...
Loading...

You may also like

शहरों के नाम बदलने पर बीजेपी नेता के कड़वे बोल, जिन्हें आपत्ति वे जायें पाकिस्तान

नयी दिल्ली। हाल ही में इलाहाबाद का नाम