जूता-मोजा का अभी बच्चों को करना होगा इंतजार, चार ब्लॉकों में नहीं हुई आपूर्ति

Please Share This News To Other Peoples....

लखनऊ । बेसिक शिक्षा परिषद के प्राइमरी और जूनियर स्कूलों में पढऩे वाले कक्षा एक से आठ तक के बच्चों को चुनाव बाद नि:शुल्क जूता-मोजा वितरित किया जाएगा। मौजूदा समय में चुनाव आचार संहिता लागू होने की वजह से वितरण नहीं किया जा सकता।

बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रवीण मणि त्रिपाठी का कहना है कि चार ब्लॉक में जूते की आपूर्ति हो चुकी है। जल्द ही अन्य ब्लॉकों में भी आपूर्ति हो जाएगी। चुनाव बाद बच्चों में इसका वितरण सुनिश्चित कराया जाएगा। मौजूदा समय में राजधानी में राजकीय, एडेड, परिषद व मदरसों को मिलाकर 2031 स्कूलों में तकरीबन दो लाख 9 हजार बच्चे पंजीकृत हैं। इनमें से 1840 परिषदीय विद्यालयों में  एक लाख 67 हजार बच्चों को यह सुविधा दी जानी है।

बीते दिनों बेसिक शिक्षा निदेशक ने निर्देश जारी किए थे कि जूतों एवं मोजों का विद्यालयवार वितरण कराए जाने की व्यवस्था खंड नगर शिक्षा अधिकारी द्वारा सर्वोच्च प्राथमिकता पर सुनिश्चित की जाए, लेकिन राजधानी सहित कई जिलों में जूता-मोजा का वितरण कार्य नहीं कराया गया। जिस पर बेसिक शिक्षा निदेशक ने नाराजगी जताई। बेसिक शिक्षा निदेशक डॉ. सर्वेंद्र विक्रम सिंह की ओर से भेजे गए पत्र के मुताबिक सैम्पल टेस्टिंग की रिपोर्ट संतोषजनक होने की स्थिति में सभी जूतों एवं मोजों का विद्यालयवार वितरण कराए जाने की व्यवस्था खंड एवं नगर शिक्षा अधिकारी सर्वोच्च प्राथमिकता पर सुनिश्चित करें। यदि रिपोर्ट संतोषजनक न हो तो आपूर्तिकर्ता को 15 दिन के अंदर वितरित किए गए जूता-मोजा को विद्यालय स्तर से वापस लेकर उतनी ही संख्या में जूते-मोजे विद्यालय में उपलब्ध कराने होंगे।

Related posts:

कई दिन इंतज़ार के बाद जब नंबर आया तो लोहिया संस्थान की सीटी स्कैन मशीन खराब, तीमारदारों का हंगामा
योगी नहीं मनोरोगी हैं यूपी के सीएम : राज बब्बर
गुजरात में अंडरकरंट चल रहा है और चुनाव में बीजेपी को करंट लगने वाला है: राहुल गांधी
मधुमेह रोगियों की तेजी से बढ़ती संख्या से विशेषज्ञ चिंतित, करीब 72 मिलियन लोग चपेट में
बाराबंकी: मुस्लिम समाज को धमकी देने वाले बीजेपी नेता के पर हो कार्रवाई: माकपा
एस.आर.ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूशन में अमेरिकी छात्रों का आगमन
इटावा सफारी पार्क में गुजरात से एक शेर तथा तीन शेरनी और लाने की कवायद तेज
इच्छामृत्यु को सुप्रीमकोर्ट ने दी इजाज़त, कहा- इज्जत से मरने का हक सबको है
कार्ति चिदंबरम को लगा बड़ा झटका, 24 मार्च तक भेजे गए जेल
मोदी सरकार कर रही है दलितों के साथ षड्यंत्र: कांग्रेस
नेपाल के प्रधानमंत्री भारत दौरे पर, काठमांडू से जुड़ेगी रेल लाइन
श्री जय नारायण महाविद्यालय में अभ्युत्थान-2018 का आयोजन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *