ज्वैलर्स डकैती कांड : चार दिन बाद भी पुलिस के हाथ खाली

- in Main Slider, क्राइम, ख़ास खबर, लखनऊ
डकैती
Loading...

लखनऊ। गोसाईगंज के खुर्दही बाजार में बीते गुरुवार की रात शुभ शगुन ज्वैलर्स में डकैतों द्वारा बुजुर्ग दम्पति को बंधक बनाकर की गई लूटपाट में पुलिस को कुछ अहम सुराग हाथ नहीं लग सके। घटना के चार दिन बीत जाने के बाद भी डकैती डालने वाले बदमाशों को गोसाईगंज पुलिस किसी को गिरफ्तार नही कर सकी। बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस कई संदिग्ध स्थानों पर छापे मारी कर कई लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

ज्वैलर्स डकैती कांड के बदमाशों तक नहीं पहुंच सकी पुलिस

ज्ञात हो कि बीते गुरुवार की रात अज्ञात बदमाशों ने गोसाईगंज के खुर्दही बाजार स्थित शुभ शगुन ज्वैलर्स की दुकान में लगभग एक दर्जन बदमाशों ने दुकान मालिक दया खंडेलवाल के पिता बसंत लाल व माँ विमला देवी को बंधक बना कर मारा पीटा, और घर में जमकर लूटपाट की।

सीसीटीवी व सर्विलांस से भी ली जा रही मदद

बुजुर्ग दम्पत्ति के मुताविक सभी डकैत अपना मुख मफलर से ढके थे।डकैतों ने अपनी पहचान छिपाने के लिए घर व दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरों को तोड़ दिया लेकिन उनकी फुटेज कैद हो गई।किन्तु डकैतों ने अपना मुख मफलर से ढक रखा था जिससे पुलिस को डकैतों की सही पहचान के लिए कोई सुराग हाथ नहीं लग सका। पुलिस सूत्रों की माने तो इस डकैती कांड का पर्दाफाश करने के लिये में पुलिस को सीसीटीवी फुटेज व सरविलांश के अलावा अपने मुखविरों की सहायता ले रही है।

पुलिस कई ठिकानों पर छापेमारी के बाद कई लोगों को हिरासत में लेकर कर रही पूछताछ

गोसाईगंज पुलिस इस घटना को सुलझाने के लिए कई संदिग्ध स्थानों पर छापेमारी कर संदिग्ध लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ भी करने के प्रयास में लगी है। लेकिन अभी पुलिस के हाथ खाली है। थानाध्यक्ष गोसाईगंज अजय प्रकाश त्रिपाठी के अनुसार इस डकैती कांड को सुलझाने के लिए सीसीटीवी फुटेज और सर्विलांस से मदद लेने के साथ मुखविरों की सहायता से कई संदिग्ध स्थानों पर छापेमारी कर कई संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ जारी है।

Loading...
loading...

You may also like

सीएम एच.डी कुमारस्वामी ने गवर्नर वजूभाई वाला से मिलने का वक्त मांगा, उन्हें सौंप सकते अपना इस्तीफा

Loading... 🔊 Listen This News सूत्रों के मुताबिक