सावधान! लंबे समय तक बैठना बना सकता है आपको इन बीमारियों का शिकार

स्वास्थ्य स्वास्थ्य

नई दिल्ली। बहुत लंबे समय तक बैठ कर काम करने वाले लोग सावधान हो जाएं। ये आदत आपकी सेहत को खतरे में ड़ाल सकती है। वैज्ञानिकों ने बताया है कि बिना ब्रेक लिए लंबे समय तक बैठे रहने से स्वास्थ्य को कई तरह का खतरा हो सकता है। अमेरिका की टेक्सास यूनिवर्सिटी की शोधकर्ता लिंडा ईनेस के मुताबिक, यह पता लगाने के लिए और अध्ययन की जरूरत है कि सबसे प्रभावी और व्यावहारिक दखल से बैठने की आदत में कमी लाई जा सकती है। वहीं लंबे समय तक बैठने के प्रतिकूल प्रभावों के प्रति जनजागरूकता में नर्स अहम भूमिका निभा सकती हैं।

स्वास्थ्य

ये भी पढे : इस बीमारी में जागते हुए पड़ते हैं दौरे,जानिये क्या है नार्कोलेप्सी 

  • कुछ सालों में किए गए कई अध्ययनों में लंबे समय तक बैठने और हृदय रोग और डायबिटीज समेत कई बीमारियों से जुड़ाव के संकेत मिल चुके हैं। नएअध्ययन में यह पाया गया है कि रोजाना लगातार सात या उससे ज्यादा बैठने से इस तरह की बीमारियों का खतरा काफी हद तक बढ़ सकता है। लेकिन बैठने के दौरान थोड़े-थोड़े अंतराल पर उठने और टहलने से इस तरह के खतरों से बचा जा सकता है। स्वास्थ्य
  • क्‍या आप अपने ऑफिस की चेयर पर या फिर अपने घर के सोफे पर एक दिन में छह घंटे से ज्‍यादा बैठते हैं? क्‍या आपको पता हैं कि ऐसा करना आपमें हृदय रोग के खतरे को 64 प्रतिशत की वृद्धि, जीवन के गुणवत्ता के सात साल कम साथ ही कैंसर के कुछ प्रकारों के अधिक जोखिम में डाल रहा हैं। इसके लिए जानिए कि कैसे बहुत ज्‍यादा देर बैठना आपके शरीर को नुकसान पहुंचा रहा है
  • एक दिन में छह घंटे से अधिक बैठना- एक या दो दशक तक छह घंटे से अधिक बैठना आपके जिंदगी के गुणवत्ता के लगभग सात साल तक की कटौती कर सकता है। इससे लगभग 64 प्रतिशत हृदय रोग से जान जाने का खतरा बढ़ जाता है और समग्र रूप से प्रोस्टेट या स्तन कैंसर के जोखिम को लगभग 30 प्रतिशत तक बढ़ता है। स्वास्थ्य
  • एक दिन में छह घंटे से ज्‍यादा बैठना और दो हफ्ते तक इसी तरह से बैठना आपके शरीर को प्लाज्मा ट्राइग्लिसराइड्स (फैटी अणु), एलडीएल कोलेस्ट्रॉल (खराब कोलेस्ट्रॉल), और इंसुलिन प्रतिरोध बढ़ जाती है।
  • एक दिन में छह घंटे से अधिक बैठना से एक साल के बाद बैठने की लंबी अवधि का प्रभाव आसानी से प्रकट होना शुरू कर सकता हैं। प्रकृति पर किये गये अध्‍ययन के मुताबिक, इस समय के अंदर आपको वजन बढने और उच्‍च कोलेस्‍ट्रॉल का अनुभव भी होना शुरु हो जाता है। महिला पर किये गए अध्‍ययन के मुताबिक, एक दिन में छह घंटे से ज्‍यादा बैठने के द्वारा आप एक प्रतिशत तक बोन मास खो सकते हैं।
loading...
Loading...

You may also like

सुप्रीम कोर्ट आज दे सकता गैर बीएस-6 मानक वाहनों की बिक्री पर फैसला

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट आज आटोमोबाइल निर्माताओं को