SMOG से बढ़ा हड्डी टूटने का खतरा, ‘द लैनसेट प्लैनेटरी हेल्थ’ पत्रिका का खुलासा

Please Share This News To Other Peoples....

अमेरिका । वायु प्रदूषण के बढ़ने से शरीर में खनिज की मात्रा कम होने के कारण हड्डियों के टूटने का खतरा बढ़ सकता है। एक प्रमुख स्टडी में यह दावा किया गया है। दिल्ली के बाद यूपी के छह शहरों की भी हवा जहरीली हो  गई है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा जारी डेली एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) 449 रहा जो कि खतरनाक है। दरअसल पार्टिकुलेट मैटर 2.5 से ज्यादा नहीं होना चाहिए, लेकिन यह 3.5 की मात्रा में पाया गया है।

‘द लैनसेट प्लैनेटरी हेल्थ’ पत्रिका में प्रकाशित अध्ययन में पहली बार अस्पताल में उन समुदायों के लोगों के हड्डियां टूटने के मामलों के बारे में जानकारी दी गई है। जहां पार्टिक्यूलेट मैटर उच्च स्तर पर हैं, जो कि वायु प्रदूषण का उच्च घटक है। शोधकर्ता ने कहा कि कम आय वाले समुदायों में हड्डियां टूटने का खतरा सबसे अधिक है। अमेरिका में कोलंबिया विश्वविद्यालय के ‘मेलमैन स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ’ की एंड्रिया बेक्केरली ने कहा कि  अध्ययन में पाया गए स्वच्छ वायु के कई लाभों में, हड्डियों की मजबूती एवं उन्हें टूटने से बचाना भी शामिल है।

उन्होंने कहा कि दशकों से किए जा रहे अध्ययनों में पाया गया है कि हृदय और श्वास रोग से लेकर कैंसर और खराब अनुभूतियों सहित कई मामलों में वायु प्रदूषण स्वास्थ्य के लिए खतरा है और अब यह ऑस्टियोपोरोसिस (हड्डियों संबंधी रोग) का भी मुख्य कारण बनकर उभर रहा है।

 

loading...