नेपाल से सस्ता पेट्रोल-डीजल लाकर भारत में बेच रहे हैं तस्कर

नेपाल
Please Share This News To Other Peoples....

रक्सौल। रक्सौल मुख्य नाका को छोड़ सभी ग्रामीण नाकाओं से डीजल-पेट्रोल की तस्करी हो रही है।  इससे नेपाल में पेट्रोलियम पदार्थ की डिमांड बढ़ गयी है।

नेपाल ऑयल निगम ने क्षमता से अधिक डीजल-पेट्रोल की डिमांड

नेपाल ऑयल निगम  क्षमता से अधिक डीजल-पेट्रोल की डिमांड इंडियन ऑयल निगम से की जा रही है।  नेपाली पेट्रोल पंप मालिकों के द्वारा नियमों को ताक पर रखकर कुछ अधिक पैसा लेकर पेट्रोल-डीजल की तस्करी की जा रही है।  पूरी रात सीमाई क्षेत्र के सहदेवा,  महदेवा,  अहिरवा टोला, पंटोका, सिसवा, मटिअरवा, महुआवा, कौरेया आदि ग्रामीण नाकों से धड़ल्ले से डीजल व पेट्रोल की तस्करी हो रही है।

पेट्रोल पर  15 रुपये व डीजल पर प्रति लीटर 15-20 रुपये का मुनाफा

साइकिल, पैदल, बाइक व अन्य सवारियों के माध्यम से पेट्रोलियम पदार्थ की तस्करी की जा रही है।  इसके साथ ही कुछ बाइक व गाड़ी चालक नेपाल में जाकर टंकी  फुल कराने के बाद उसे भारतीय क्षेत्र में लाकर खाली कर रहे हैं।  एक लीटर पेट्रोल पर लगभग नेपाल से सस्ता 15 रुपये का मुनाफा तो डीजल पर प्रति लीटर 15-20 रुपये का मुनाफा हो रहा है।  भारतीय क्षेत्र में पेट्रोल की कीमत लगभग 83 रुपये प्रति लीटर है तो वहां पेट्रोल की कीमत 66 रुपये प्रति लीटर है।

ये भी पढ़ें :-बड़ा नाव हादसा, नदी से बरामद हुई 50 लोगों की लाशें 

डीजल व पेट्रोल की तस्करी के कारण भारतीय क्षेत्र में संचालित पंप संचालकों को भारी नुकसान

भारतीय क्षेत्र में डीजल की कीमत 73 रूपये प्रति लीटर है तो वहां इसकी कीमत 53 रुपये है।  ऐसे में कीमतों में भारी अंतर होने के कारण तस्करों के द्वारा इन दिनों प्रतिदिन हजारो लीटर डीजल व पेट्रोल की तस्करी नेपाल से की जा रही है।  नेपाल से हो रही डीजल व पेट्रोल की तस्करी के कारण भारतीय क्षेत्र में संचालित पंप संचालकों को भी नुकसान हो रहा है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *