लखनऊ : बेटी व दामाद ने वृद्घा की संपत्ति पर कब्जा किया…

24ghanteonline24ghanteonline

लखनऊ। राजधानी के गोसाईगंज थानाक्षेत्र से कलयुगी बेटी और दामाद ने संवेदनहीनता की सारी हदें पार कर दी। महिला की मलाक निवासी बेटी राधा और दामाद रवीन्द्र यादव ने बहला फुसला कर वृद्घा की बेशकीमती स पत्ति अपने नाम करवा ली। फिर वृद्घा को दर-दर भटकने के लिए छोड़ दिया। विरोध करने पर आरोपितों ने वृद्घा की पिटाई कर घायल कर दिया। घायल वृद्घा को देख लोगों ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया।

यह भी पढ़ें :लखनऊ : फंदे से लटकती मिली महिला की लाश

जानकारी के मुताबिक…

कानपुर निवासी 65 वर्षीय बुजुर्ग महिला दुर्गावती ने अपनी बेटी राधा की शादी मलाक निवासी रवीन्द्र यादव से की थी। हाल ही में वह मलाक अपने बेटी और दामाद से मिलने के लिए आई थी। जहां दोनों ने मिलकर अपनी माँ की स पति अपने नाम लिखवा कर बुजुर्ग माँ को घर से निकाल दिया। गुरुवार की शाम बुजुर्ग महिला चोटिल स्थिति में मलाक के पास पड़ी मिली।

यह भी पढ़ें :मलाइका ने शेयर की अपनी नयी फोटो, फैंस हुए मदहोश…देखें फोटो…

पहुंची पुलिस…

स्थानीय लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस चोटिल महिला को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गोसाईगंज ले गई। यहां पर डॉक्टरों की संवेदनहीनता का जीता जागता उदाहरण देखने को मिला। दर्द में कराहती महिला को रात भर इलाज नहीं मिल सका। दर्द से परेशान महिला रात में भटकते हुए गोसाईगंज कस्बा स्थित शिशु मन्दिर स्कूल के पास पहुंच गई। जहां से स्थानीय लोगों ने सुबह उसे अस्पताल पहुंचाया। कई घण्टों तक महिला के पास कोई डॉक्टर नहीं पहुंचा। काफी समय बीत जाने के बाद अस्पताल पहुंचे डिप्टी सीएमओ डीएस बाजपेई को जब मामले की जानकारी हुई तो उन्होंने सीएचसी में तैनात डॉक्टरों को जमकर फटकारा। इस मामले पर जब गोसाईगंज सीएचसी अधीक्षक हेमन्त कुमार से बात करने की कोशिश की गई तो उनसे स पर्क नहीं हो सका।

loading...
Loading...

You may also like

महिलाओं के तरक्की से होगा विकास

सिद्धार्थनगर। आधी आबादी महिला समूहों का गठन करके