सोनभद्र हत्याकांड : 26 घंटे के बाद प्रियंका गांधी का धरना खत्म,10 -10 लाख रुपये देने का ऐलान

Loading...

मिर्जापुर। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि मेरा सोनभद्र गोलीबारी का शिकार हो चुके पीड़ित  परिवार से मिलने के बाद उद्देश्य पूरा हो गया है। मैं अभी भी हिरासत में हूं, आगे देखें कि प्रशासन क्या कहता है? कांग्रेस पार्टी घटना में मारे गए व्यक्ति के परिजनों को 10 लाख रुपये का मुआवजा देगी।

दलितों और आदिवासियों की लड़ाई लड़ना बंद नहीं करेगी : राहुल गांधी

राहुल गांधी ने फेसबुक पर लिखा है कि सोनभद्र नरसंहार के पीड़ित परिवारों से मिलने जा रही कांग्रेस महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी वाड्रा को तानाशाही प्रवृति वाली यूपी सरकार ने चुनार गेस्ट हाउस में कैद करके बिना बिजली-पानी के रातभर रोके रखना लोकतंत्र को कुचलने की कोशिश है। कांग्रेस इन हथकंडों से डरकर दलितों और आदिवासियों की लड़ाई लड़ना बंद नहीं करेगी।

 

पीड़ित के परिवार के सदस्य ने कहा कि  प्रियंका दीदी हमसे मिलने आई हैं, लेकिन प्रशासन ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया

सोनभद्र फायरिंग की घटना के पीड़ित के परिवार के सदस्य ने कहा कि हमें पता चला कि प्रियंका दीदी हमसे मिलने आई हैं, लेकिन प्रशासन ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है और उन्हें ऐसी जगह ले गए हैं जहां कोई उनसे नहीं मिल सकता है। इसलिए, हमने चुनार आने और उससे मिलने का फैसला किया।

प्रियंका गांधी ने कहा कि हमारी कुछ मांगे हैं पीड़ितों को 25 लाख मुआवजा , मुकदमा फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाया जाए, पीड़ितों को जमीन का मालिकाना हक मिले

बैठक के बाद पीड़ितों के साथ बाहर आईं प्रियंका गांधी ने कहा कि हमारी कुछ मांगे हैं। 25 लाख मुआवजा दिया जाए, मुकदमा फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाया जाए, पीड़ितों को जमीन का मालिकाना हक मिले और निर्दोषों पर किए गए झूठे मुकदमे वापस लिया जाए। कांग्रेस भी पीड़ितों की आर्थिक मदद करेगी।

इसके पहले प्रियंका गांधी चुनार किले में पेड़ के नीचे धरने पर बैठी थीं। इसी दौरान प्रियंका गांधी से मिलने आए पीड़ितों के रिश्तेदारों को पुलिस ने किले के नीचे रोका तो प्रियंका गांधी खुद उनसे मिलने जाने लगी थीं। इस पर पुलिस ने प्रियंका को भी रोका था। इसी बात पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं की पुलिस के साथ झड़प भी हुई। वहीं, प्रियंका गांधी वाड्रा से मिलने जा रहे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राजबब्बर को भी वाराणासी एयरपोर्ट पर हिरासत में लिया गया। राज बब्बर के साथ जितिन प्रसाद, आरपीएन सिंह, मुकुल वासनिक, राजीव शुक्ला, दीपेंद्र हुड्डा, प्रजानाथ शर्मा समेत कई कांग्रेसी नेताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

Loading...
loading...

You may also like

तिहाड़ में यासीन मलिक और बिट्टा जी रहे हैं नरक की जिंदगी

Loading... 🔊 Listen This News नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर