यूपीकोका के जरिये विपक्ष को प्रताड़ित करने षड्यंत्र : सपा

विपक्षविपक्ष

लखनऊ। यूपी विधानमंडल के शीतकालीन सत्र की शुरुआत गुरूवार को हंगामे के साथ हुई। प्रदेश में विपक्ष की भूमिका निभा रही सपा के विधायकों सत्ता रूढ़ बीजेपी की नीतियों का विरोध जताया।  में विपक्ष ने प्रदेश में बढ़ते अपराध, बेरोजगारी और किसानों की कर्जमाफी के मुद्दे पर सरकार को घेरने की कोशिश की साथ ही उत्पीड़न, बिजली के बढ़ते दामों को लेकर भी सपाईयों ने हमला बोला। हंगामें के चलते सदन की कार्रवाई को बीच में ही रोकना पड़ा। पहले दिन प्रश्नाकालीन सत्र नहीं हो पाया। सपा अखिलेश यादव ने इस दौरान कहा कि जनता के साथ किसी भी प्रकार की नाइंसाफी सपा बर्दाश्त नहीं करेगी।

ये भी पढ़े:-गुजरात में नहीं खुलेगा सपा का खाता : मुलायम सिंह 

इसके अलावा सत्र के शुरू होने पर सपा ने सरकार पर समाजवादी सरकार में लागू योजनाओ को बंद करने का आरोप लगाया। सपा की तरफ से कहा गया कि यूपी में बीजेपी की सरकार बनने के बाद अपराध तेजी से बढ़ा है। प्रदेश में कानून व्यवस्था बदत्तर हो गयी है। इसके अलावा सरकार पर वादा खिलाफी का आरोप लगाते हुए कहा गया कि प्रदेश को गड्ढा मुक्त बनाने के नाम पर भ्रष्टाचार किया गया।

विपक्ष का योगी सरकार पर हमला

  • सपा की तरफ से कहा गया कि प्रदेश में बीजेपी की सरकार आने के बाद अपराध तेजी से बढ़ा है।
  • पार्टी ने कहा कि बीजेपी और उसके लोग सत्ता का दुरुपयोग कर रहे है।
  • प्रदेश भाजपा सरकार को बने 9 महीने हो चुके है।
  • इस अवधि में जनहित में कोई नया काम नहीं हुआ है।
  • बीजेपी के नेता, मंत्री, विधायक और सांसद सत्ता प्रशासनिक मामलों में हस्तक्षेप के साथ अधिकारियों को प्रताडि़त करने का काम कर रहे हैं।
  • प्रदेश में, चिकित्सा व्यवस्था ध्वस्त करने, सडक़ों को गड्ढा मुक्त करने के नाम पर घोटाला हुए।
  • प्रदेश में व्यापारियों के साथ लूट और हत्या की कई घटनाओं का खुलासा भी नही हो पाया है।
  • सरकार से कानून व्यवस्था तो सुधर नही रही उससे अपराधियों के हौसले इतने बढ़ गए हैं
  • सरकार की गलत नीतियों नोटबंदी, जीएसटी और मंहगाई से परेशान जनता बदहाल और परेशान है।

ये भी पढ़ें:-हार से आहत सपा प्रत्याशी गुलशन बिंदू ने की सुसाइड की कोशिश, बीजेपी पर साधा निशाना 

यूपीकोका से विपक्षियों का प्रताड़ित करना चाहती है बीजेपी

  • सपा की तरफ से कहा गया कि सरकार प्रस्तावित यूपीकोका जैसे जनविरोधी कानून को विपक्षियों और जनता को प्रताडि़त करना चाहती है।
  • आगे कहा कि इस प्रस्ताव को सरकार को तुरंत वापस लेना चाहिए।
  • विपक्ष ने कहा कि प्रदेश में समाजवादी सरकार के समय की कई जनोपयोगी योजनाएं बंद कर दी गई।
  • सपाईयों ने कहा समाजवादी सरकार ने यूपी 100 डायल व्यवस्था लागू की जिससे अपराध नियंत्रण होता था।
  • 1090 वूमेन पावर सेवा में महिलाओं के साथ छेड़छाड़ की घटनाएं रूक रही थी।
  • उन्हें बीजेपी सरकार ने इन व्यवस्थाओं को बर्बाद कर दिया।
  • विपक्ष ने आरोप लगाया कि निकाय चुनावों में भी प्रशासनिक मशीनरी का पक्षपात दिखाई दिया।
  • सरकार के दबाव में प्रशासन विरोधीपक्ष के कार्यकर्ताओं व  नेताओं का उत्पीडऩ करने में लगा है।

ये भी पढ़ें:-Video: राजधानी लखनऊ समेत कई जगहों पर हंगामा, सपा ने की चुनाव रद्द किये जाने की मांग 

बिजली के बढ़े दामों ने तोड़ी किसानों की कमर

  • बिजली के बढ़े दामों पर विपक्ष ने कहा कि किसानों को विद्युत आपूर्ति बाधित है।
  • सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली की दरें 67 से 150 फीसदी बढ़ाकर किसानों को तबाह कर रही हैं।
  • भाजपा सरकार में किसान सबसे ज्यादा प्रताडि़त हैं।
  • किसानो को खाद, बीज, कीटनाशक, समय से नहीं मिल रहे हैं।
  • मंहगाई ने उनकी कमर तोड़ दी है।
  • धान की खरीद लक्ष्य से कोसों दूर है।
  • गन्ना किसानों का भुगतान अभी तक नहीं हुआ है। नहरों की सिंचाई बंद है।

जनता के साथ किसी भी प्रकार की नाइंसाफी बर्दाश्त नहीं : अखिलेश

  • समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि सपा जनता के साथ किये जा रहे अन्याय को बर्दाश्त नहीं करेगी।
  • बीजेपी राज में जनता हर तरह से त्रस्त है। उसकी कहीं सुनवाई नहीं हो रही है।
  • सत्ता में चूर बीजेपी के नेता लोकतांत्रिक मर्यादाओं का तिरस्कार कर रहे हैं।
  • समाजवादी पार्टी सदन से लेकर सडक़ तक बीजेपी सरकार की मनमानी के विरूद्ध लोकतांत्रिक तरीके से संघर्ष करेगी।
loading...
Loading...

You may also like

महिलाओं के तरक्की से होगा विकास

सिद्धार्थनगर। आधी आबादी महिला समूहों का गठन करके