फर्जी मुठभेड़ बंद करो के नारों से गूंजा सदन, जवाब न मिलने पर सपा ने किया वाकआउट

फर्जी मुठभेड़फर्जी मुठभेड़

लखनऊ। यूपी विधानसभा में मंगलवार को भी सपा का हंगामा जारी रहा सदन की कार्रवाई शुरू होते ही विपक्ष के नेताओं ने नारेबाजी शुरू कर दी। सपा के नेताओं ने कहा कि सीएम योगी समाजवाद को आतंकवाद से जोड़ने वाले बयान पर मांफी मांगे। साथ ही सपा ने फर्जी एनकाउंटर मामले में भी सरकार के खिलाफ हमला बोला नेताओं ने आरोप लगाया कि फर्जी मुठभेड़ में लोगों को मारा जा रहा है। इस मामले में सीबीआई जांच होनी चाहिए और इस मामले में सरकार से जवाब मांगा सरकार की तरफ से कोई जवाब न मिलने पर सभी सदस्यों ने नारेबाजी करते हुए वाकआउट कर दिया।

फर्जी मुठभेड़ के मामले पर विपक्ष का हमला

सदन की कार्रवाई के शुरुआत से ही विपक्ष सरकार के खिलाफ हमलावर दिखा। सपा के नेताओं ने सरकार से फर्जी मुठभेड़ को लेकर सवाल किया। जिसके बाद जवाब न मिलने पर विपक्ष के सभी सदस्यों ने फर्जी मुठभेड़ बंद करो के नारे लगाए। जिसके बाद सरकार की तरफ से कोई जवाब न मिलने पर सदस्य नारेबाजी करते हुए बाहर निकल गए।

उल्लेखनीय है कि योगी सरकार के आने के बाद पुलिस ने सैकड़ों एनकाउंटर किये हैं। लेकिन हाल ही में यूपी पुलिस के एनकाउंटर को लेकर सवाल भी उठने लगे हैं। ग्रेटर नोएडा सुमित गुर्जर एनकाउंटर के फर्जी एनकाउंटर का मामला सामने आया। जिसको लेकर पुलिस की काफी किरकिरी हुई। वहीं मथुरा में एक एनकाउंटर एक बच्चे की जान चली गयी थी।

विधान परिषद में उठा राष्ट्र ध्वज का मुद्दा

वहीं विपक्ष ने राष्ट्र ध्वज को लेकर विधान परिषद में सवाल किया. जिस पर सरकार की तरफ से जवाब में कहा गया कि यूपी में राष्ट्र ध्वज कोड लागू है। 2017 में राष्ट्र ध्वज कोड उल्लंघन के मामले भी दर्ज हुए हैं। राष्ट्र ध्वज के ऊपर किसी संस्था का झंडा नहीं लगाया जा सकता है। राष्ट्र ध्वज किसी गैर सरकारी व्यक्ति के शव पर भी नहीं लपेट सकते हैं। विधान परिषद में सभापति रमेश यादव ने सरकार को सीबीआई जांच की सिफारिश के लिए कहा है। सपा की मांग को मानते हुए 3 एनकाउंटर को फर्जी मानते हुए सीबीआई जांच कराने की कही है।

वहीं इस मामले में नोएडा के जितेंद्र यादव, ग्रेटर नोएडा सुमित गुर्जर एनकाउंटर की सीबीआई जांच की सिफारिश करने का की बात मान ली गई है। साथ ही मथुरा एनकाउंटर में बच्चे की मौत के मामले में भी सीबीआई जांच की सिफारिश की बात कही गई।

सरकार ने सदन में योजना के लाभ गिनाये

इस दौरान योगी सरकार अपनी योजनाओं का बखान किया सरकार ने बताया कि पीएम किसान बीमा योजना में 10 लाख से किसानों को अधिक लाभ मिला है।प्राकृतिक आपदाओं से प्रभावित फसलों पर किसानों को मिला बीमा लाभ मिला है। विधान परिषद में किसान बीमा योजना को लेकर सरकार का जवाब आया, शिक्षा के मामले पर सपा और कांग्रेस ने विधानसभा से किया वाक आउट और हंगामा करने के बाद बाहर निकले, इसके पहले कल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को डॉ. राम मनोहर लोहिया के बहाने समाजवादियों पर जमकर निशाना साधा था।

उन्होंने कहा कि डॉ. लोहिया जिस समाजवादी विचारधारा का नेतृत्व करते थे वह हमारे नजदीक थी, लेकिन आज के समाजवादी जातिवाद, वंशवाद, आतंकवाद, भ्रष्टाचार और अराजकता के करीब हैं। अपने अनुयायियों का आचरण देखकर डॉ. लोहिया की आत्मा दुखती होगी,सपा विधायक वेल में आकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से माफी मांगने की मांग कर रहे हैं। वेल में धरने पर सपा सदस्य बैठ गए और हंगामे के कारण कई बार सदन की कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी, विपक्ष विधान परिषद अहमद हसन का बयान आया है। इलाहाबाद की घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। प्रदेश में अपराध चरम सीमा पर है। इलाहाबाद में छात्र के परिजनों को मदद मिलनी चाहिए। उन्होंने मांग की और कहा कि परिजनों को सरकार 50 लाख रुपए दे।

loading...
Loading...

You may also like

लखनऊ : मुस्लिम युवक ने हिंदू बनकर 2 हिंदू लड़कियों से शादी कर दिया धोखा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में लव