मंत्रिमंडल विस्तार पर सीएम ने तोड़ी चुप्पी, इन्हें बताया मंत्री बनने के काबिल

मंत्रिमंडल विस्तारमंत्रिमंडल विस्तार पर सीएम योगी का बयान

लखनऊ। लोकसभा चुनाव से पहले यूपी की योगी सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार की अटकलों को ख़ारिज करते हुए सीएम ने बड़ा बयान दिया है। सीएम योगी ने कहा कि यूं तो भाजपा का हर कार्यकर्ता मंत्री बनने के लायक है। लेकिन जिस दिन आवश्यकता लगेगी उस दिन कैबिनेट का विस्तार कर दिया जाएगा। इसे लेकर किसी को चिंता करने की आवश्यकता नहीं है।

मंत्रिमंडल विस्तार की अटकलें तेज

सूत्रों की माने तो सीएम योगी मंत्रिमंडल विस्तार कर सकते हैं। कहा जा रहा है कि 2019 के लोकसभा चुनाव को देखते हुए पुनर्गठन में अपेक्षा के अनुरूप परफार्मेन्स न देने वाले कुछ मंत्रियों की छुट्टी हो सकती है। वहीं विधानसभा और निकाय चुनाव में अपनी जिम्मेदारियों को बखूबी निभाने वाले प्रदेश स्तर पार्टी पदाधिकारियों को मंत्रिमंडल में स्थान मिल सकता है।

बताया जा रहा है कि वैसे तो फेरबदल पिछले वर्ष ही होना था, लेकिन कभी सरकार के एक वर्ष पूरा होने तो कभी उपचुनाव तो कभी संगठनात्मक अभियान की वजह से यह टलता रहा।

पढ़ें:- इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव की घोषणा, इस तारीख को होगी वोटिंग 

इन मंत्रियों का बढ़ सकता कद

सूत्रों की माने तो मंत्रिमंडल में होने वाले संभावित विस्तार में स्वतंत्र प्रभार राज्यमंत्री डॉ. महेंद्र सिंह, स्वतंत्र देव सिंह, सुरेश राणा, भूपेंद्र चौधरी का कद बढ़ाया जा सकता है। कानून मंत्री ब्रजेश पाठक को कुछ और महत्वपूर्ण विभाग सौंपने की चर्चा है। ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा की भी जिम्मेदारी बढ़ाई जा सकती है।

फिलहाल अभी महत्वपूर्ण विभाग की जिम्मेदारी उठा रहे पश्चिम के एक कैबिनेट मंत्री का कद छांटा जा सकता है। वहीं अवध और बुंदेलखंड के एक-एक मंत्री की कुर्सी जाना तय माना जा रहा है। श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य को कुछ और महत्वपूर्ण विभाग सौंपकर लोकसभा चुनाव के तहत समीकरणों को दुरुस्त करने की कोशिश की जा सकती है।

loading...

You may also like

दलित समर्थक छवि से दूर हो रही मायावती? SC/ST पदोन्नत पर दिया ऐसा बयान

लखनऊ। बुधवार को अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति