Main Sliderख़ास खबरफैशन/शैलीराष्ट्रीयस्वास्थ्य

ऐसे पुरुषों को सबसे ज्यादा होता है त्वचा कैंसर का खतरा

लाइफ़स्टाइल। एक हालिया अध्ययन में यह खुलासा हुआ है कि गे (समलैंगिक) और बाइसेक्सुअल (द्विलिंगी) पुरुषों को त्वचा कैंसर का खतरा ज्यादा होता है। यह अध्ययन जेएएमए डर्मेटोलॉजी नामक पत्रिका में प्रकाशित हुआ है।

बोस्टन के ब्रिघम और वुमन्स हॉस्पिटल के शोधकर्ताओं ने गे और बाइसेक्सुअल पुरुषों की तुलना हेट्रोसेक्सुअल (सामान्य) पुरुषों और महिलाओं से की। इसमें पता चला कि गे पुरुषों में त्वचा कैंसर का खतरा 8.1 फीसदी और बाइसेक्सुअल पुरुषों में 8.4 फीसदी रहता है।

वहीं, हेट्रोसेक्सुअल पुरुषों में त्वचा कैंसर का खतरा 6.7 फीसदी और हेट्रोसेक्सुअल महिलाओं में 6.6 फीसदी पाया गया। शोधकर्ताओं ने कहा, गे महिलाओं में यह खतरा 5.9 फीसदी और बाइसेक्सुअल महिलाओं में 4.7 फीसदी रहता है।

शोधकर्ता डॉ. अराश मोस्टागिमी ने कहा, इस अध्ययन के लिए हमने लोगों से पहले उनके यौन आकर्षण और लिंग के बारे में पूछा। इसके बाद डाटा इकट्ठा किया और निष्कर्षों में यह पता चला कि सामान्य के मुकाबले गे और बाइसेक्सुअल पुरुष और महिलाओं को त्वचा कैंसर का खतरा ज्यादा रहता है।

खतरा-

  • इनमें त्वचा कैंसर का खतरा 8.1 फीसदी होता है
  • सामान्य पुरुषों में 6.7 फीसदी होता है त्वचा कैंसर का खतरा
loading...
Loading...