सुप्रीम कोर्ट का फैसला, आलोक वर्मा को छुट्टी पर भेजने का आदेश हुआ निरस्त

नई दिल्ली। थोड़ी देर पहले सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा की याचिका पर अपना फैसला सुना दिया है। अदालत का कहना है कि आलोक वर्मा ने केंद्र सरकार द्वारा उनके अधिकार छीनने और जबरन छुट्टी पर भेजने के खिलाफ याचिका दायर की थी।

ये भी पढ़े:-कैबिनेट बैठक में आरक्षण देने का प्रस्ताव हुआ मंजूर, सवर्ण आरक्षण आज लोकसभा में होगा पेश 

सरकार ने वर्मा और सीबीआई के विशेष निदेशक राकेश अस्थाना के बीच हुए विवाद के सार्वजनिक होने के बाद यह कार्रवाई की थी। हालांकि चीफ जस्टिस रंजन गोगोई आज छुट्टी पर थे इसलिए उनकी अनुपस्थिति में जस्टिस संजय किशन कौल ने फैसला पढ़ा।

ये भी पढ़े:- SP-BSP गठबंधन पर नीतीश कुमार का जुबानी हमला, गठबंधन का कोई भविष्य नहीं 

इससे पहले 6 दिसंबर को मामले की सुनवाई की गयी थी। जिसमें आलोक वर्मा, केंद्र और सीवीसी की दलीलें सुनने के बाद अदालत ने फैसला सुरक्षित रख लिया था। अदालत ने एनजीओ कॉमन कॉज की याचिका पर भी सुनवाई की थी। इस याचिका में राकेश अस्थाना समेत सीबीआई अधिकारियों पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर अदालत की निगरानी में एसआईटी जांच करने की मांग की गई थी।

Loading...
loading...

You may also like

जानलेवा हमले के फरार आरोपितों के घर पुलिस ने बजवाई डुगडुगी

लखनऊ। गुडम्बा थाना क्षेत्र में तिलक समारोह में