Main Sliderअंतर्राष्ट्रीयक्राइम

सीरियाई-तुर्की सैनिकों में झड़प, चार सीरियाई सैनिकों की मौत

दमिश्क/अंकारा। पूर्वोत्तर सीरिया में सीरियाई सैनिकों और तुर्की के नेतृत्व वाले सैनिकों  में  झड़प हो गई जिसमें चार सीरियाई सैनिक मारे गए। इस बीच, तुर्की के राष्‍ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन ने अपने रूसी समकक्ष ब्‍लादिमीर पुतिन ने फोन पर सीरिया में जारी तनाव और द्विपक्षीय संबंधों को मजबूती देने के मसले पर बातचीत की।

कुर्द लड़ाकों पर हमला

हालांकि, कुर्दिश समाचार एजेंसी हवार की रिपोर्ट में कहा गया है कि सीरिया सरकार के पांच सैनिक मारे गए हैं जबकि 26 अन्य घायल हुए हैं। बता दें कि सीरिया से अपने सैनिकों को वापस बुलाने के अमेरिकी राष्‍ट्रपति ट्रंप के फैसले के बाद तुर्की ने सीमा पर कुर्द लड़ाकों पर हमला बोला था।

कैमरामैन घायल

समाचार एजेंसी एपी की रिपोर्ट के मुताबिक, तुर्की ने नौ अक्टूबर से कुर्द लड़ाकों की अगुवाई वाले सीरियाई लोकतांत्रिक बलों (एसडीएफ) को निशाना बनाया। ब्रिटेन स्थित ‘सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स‘ और ‘सना’ के अनुसार, इस हमले में सरकारी सीरियाई टीवी चैनल का कैमरामैन भी हमले में घायल हो गया जबकि चार सीरियाई सैनिक मारे गए। यही नहीं हमले में एक जनरल और एक चिकित्सा सहायक भी घायल हुए।

‘बफर जोन’ बनाने की योजना

दरअसल, इराक के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन सीरिया से लगती अपनी सीमा पर 30 किलोमीटर का ‘बफर जोन’ बनाना चाहते हैं। वह कुर्द लड़ाकों की अगुवाई वाले सीरियाई लोकतांत्रिक बलों (एसडीएफ) को दूर रखना चाहते हैं। उनकी मंशा तुर्की में मौजूद 36 लाख अरब सीरियाई शरणार्थियों के एक हिस्से के लिए पुनर्वास क्षेत्र बनाने की है।

loading...
Loading...