आखिर क्यों आज रात आ रहे है लखनऊ बिहार के पूर्व सीएम

आखिर क्यों आज रात आ रहे है लखनऊ बिहार के पूर्व सीएम
Loading...

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में जैसे ही बहुजन समाज पार्टी व समाजवादी पार्टी के बीच गठबंधन हुआ है वैसे ही राजनीति की हवा का रुख एकदम से ही बदल गया है। अब बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव आज (रविवार) रात से दो दिन के लखनऊ दौरे पर रहेंगे। तेजस्वी 15 जनवरी को बसपा मुखिया मायावती को उनके जन्मदिन पर बधाई भी देंगे।

राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के छोटे पुत्र तेजस्वी यादव भी अब उत्तर प्रदेश की राजनीति के बदले परिवेश में रुचि ले रहे हैं। सपा-बसपा के गठबंधन से उत्तर प्रदेश में सियासी हलचल तेज हो गई है। इसी क्रम में तेजस्वी यादव भी इनके गठबंधन को समर्थन देने लखनऊ आ रहे हैं।

तेजस्वी यादव आज (रविवार) रात लखनऊ पहुंच रहे हैं। कल उनका समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव से भेंट करने का कार्यक्रम है। इसके बाद 15 जनवरी की सुबह वह बसपा मुखिया मायावती के आवास पर जाकर उनको जन्मदिन की बधाई देंगे। उनका दोनों नेताओं से अलग-अलग भेंट करने का कार्यक्रम है।

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने उत्तरप्रदेश में बहुजन समाज पार्टी व समाजवादी पार्टी के बीच हुए गठबंधन पर खुशी जताते हुए कहा है कि भाजपा अब तैयार रहे, उनके हार की शुरुआत अब उत्तर प्रदेश तथा बिहार से हो चुकी है।

ये भी पढ़ें:-2019 लोकसभा चुनाव : मोदी जी नहीं तो किसने ये शादी के कार्ड को छपवाया 

तेजस्वी ने सपा-बसपा के गठबंधन की सराहना की और कहा कि इससे यूपी में एनडीए का सफाया तय है। इतना ही नहीं, तेजस्वी ने ट्वीट भी किया है औज कहा है कि यूपी-बिहार से भाजपा का सफाया तय है।

तेजस्वी यादव ने कहा कि यूपी में माया और अखिलेश का गठबंधन अटूट है, बिहार जैसे हालात वहां नहीं होंगे। राजद सुप्रीमो लालू यादव भी चाहते थे कि वहां यह गठबंधन हो। तेजस्वी ने कहा कि यह गठबंधन नेहरू, कर्पूरी, लोहिया के विचारों का गठबंधन है और इस गठबंधन से भाजपा की हार होगी।

गठबंधन से उत्साहित तेजस्वी यादव ने कहा था कि सपा-बसपा के बीच का गठबंधन सफल और परखा हुआ है। उपचुनावों में अखिलेश यादव व मायावती ने साबित किया है कि बिना कांग्रेस के भी वह भाजपा का रास्ता रोक सकते हैं। आज यह तय हो गया कि बिहार और यूपी में भाजपा का खाता भी नहीं खुलने वाला है।

Loading...
loading...

You may also like

पूर्व कैबिनेट सचिव -13 साल पहले युद्ध प्रभावित स्थानों से भा. नागरिकों को लाया सुरक्षित वापस

Loading... 🔊 Listen This News नई दिल्ली। भारत ने