उन्नाव गैंगरेप : सुप्रीम कोर्ट ने वकील से पूछा, क्या आपके किसी रिश्तेदार से बलात्कार हुआ है?

सुप्रीम कोर्ट
Please Share This News To Other Peoples....

नई दिल्ली। उन्नाव गैंगरेप को लेकर जनहित याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने एक वकील से बेहद तीखे अंदाज में सवाल किया जिसे सुनकर सभी लोग दंग रह गए। दरअसल हाल ही में सामने आए उन्नाव गैंगरेप मामले में वकील ने एमएल शर्मा ने एक जनहित याचिका दायर की थी। जिसमें उन्होंने कहा था कि बलात्कार के मामलों में ताकतवर लोगों जैसे मंत्री, सांसद या विधायक के खिलाफ पुलिस मुकदमें दर्ज नहीं करती। इस पर कोर्ट ने उनसे पूछा कि क्या आपके किसी रिश्तेदार से बलात्कार हुआ है?

पढ़ें:- योगी के साथ अमित शाह गांधी परिवार के गढ़ में लगाएंगे सेंध 

सुप्रीम कोर्ट ने वकील से पूछे सवाल

याचिका पर टिपण्णी करते हुए न्यायाधीश एसए बोवडे की अध्यक्षता वाली पीठ ने शुक्रवार को वकील से पूछा क्या आपके किसी रिश्तेदार से बलात्कार हुआ है? कोर्ट ने वकील शर्मा के लोकस स्टैंडाई पर सवाल करते हुए यह प्रश्न पूछा। पीठ ने वकील की याचिका खारिज कर दी। पीठ ने कहा है कि आपराधिक मामलों को लेकर जनहित याचिकाएं कैसे दायर की जा सकती हैं? पीठ ने वकील से पूछा कि उनका उन्नाव मामले से क्या रिश्ता है और वो इससे कैसे प्रभावित हैं?

पढ़ें:- बेटे को फर्जी एनकाउंटर से बचाने की गुहार लगाने अखिलेश के पास पहुंचा पिता 

कोर्ट की तरफ से आगे कहा गया कि इलाहाबाद हाईकोर्ट पहले ही इस मामले में आदेश दे चुका है। आगे कहा गया कि आपराधिक मामलों को लेकर जनहित याचिकाएं नहीं दी जा सकती हैं। बेंच की टिप्पणी के बाद अदालत में वकीलों के बीच सन्नाटा छा गया। इसके बाद जब शर्मा ने अपने तर्कों के साथ अपनी बार रखी, तो खंडपीठ ने याचिका खारिज कर दी।

Related posts:

कश्मीर मुद्दे पर बीजेपी के वार से बचने के लिए चिदंबरम को मिला गुरुमंत्र
अब सफाई नहीं बनेगी ट्रैफिक की बाधा, आज से रात में चमकाई जायेगी लखनऊ की सड़कें
पीएम मोदी ने कांग्रेस को बताया दीमक, बोले- अब हिमाचल से उखाड़ फेंकने का समय आ गया
पटना महानगर कांग्रेस के आईटी सेल का गठन
ऑक्सीजन के अभाव से नवजात की मौत, दर-दर भटकता रहा पिता 
CSIR-CIMAP में किसान मेला 31 जनवरी को, मेंथा से इस बार आय होगी दोगुनी
लखनऊ : घरेलू कलह से तंग आकर पति ने हाथ की नस काटकर की खुदखुशी
नशा मुक्ति केन्द्र के रोशनदान की ग्रिल तोडक़र भागे सात युवक
कर्नाटक हाईकोर्ट से बीजेपी को बड़ा झटका, बीएस येदियुरप्पा के ‘भ्रष्टाचार’ की होगी जांच
₹5000 के इनामी को पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल
CBSE ने NEET 2018 के नतीजे घोष‍ित, वेबसाइट से जूझे स्टूडेंट्स
रूस के राष्ट्रपति की मीडिया पर सख्ती, महिलाओं को दी मेहमानों से संबंध स्थापित करने की खुली छूट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *