कांग्रेस में शोक की लहर, इस बड़े नेता का निधन

कांग्रेसकांग्रेस

लखनऊ। कांग्रेस की वरिष्ठ नेता एवं उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री रही बेगम हमीदा हबीबुल्ला मंगलवार को निधन हो गया। वह 102 वर्ष की थी। श्रीमती हमीदा कई गैर सरकारी संगठनों (एनजीओ) से जुड़ी हुई थी। वह लखनऊ बालिका कालेज की संस्थापक सदस्यों में थी।

ये भी पढ़ें :-ज्यादा बच्चे पैदा करने वालों का बंद हो राशन-पानी: बसपा विधायक

पैतृक गांव सैदानपुर, बाराबंकी में किया जाएगा अंतिम संस्कार

पारिवारिक सूत्रों ने बताया कि उनका अंतिम संस्कार मंगलवार शाम उनके पैतृक गांव सैदानपुर, बाराबंकी में किया जाएगा। वह वर्ष 1965 में पति के सेना से सेवानिवृत होने बाद राजनीति में आई। उन्होने हैदरगढ सीट से विधायक चुने जाने पर जन सेवा की। वह वर्ष 1971 से 1973 तक प्रदेश की सामाजिक एवं हरिजन समाज कल्याण मंत्री रही।

बेगम हमीदा महिला सशक्तीकरण का थीं प्रतीक

हैदराबाद उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश स्वर्गीय नवाब नजीर यार जंग बहादुर की बेटी बेगम हमीदा महिला सशक्तीकरण का प्रतीक थीं। वह वर्ष 1971 से 1974 तक प्रदेश की पर्यटन मंत्री रहीं। हमीद बेगम वर्ष 1980 तक उत्तर प्रदेश कांग्रेस कार्यकारिणी कमेटी की सदस्य भी रहीं । वर्ष 1969 से अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की सदस्य बनी थीं । उन्होंने प्रदेश महिला मोर्चा अध्यक्ष पद पर वर्ष 1972 से 1976 तक कार्य किया। वह वर्ष 1976 से 1982 तक राज्यसभा सदस्य रहीं ।

loading...
Loading...

You may also like

2019 के लोकसभा चुनाव में किसी पार्टी को नहीं मिलेगा स्पष्ट बहुमत : शरद पवार

मुंबई। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष शरद