थर्ड हैंड स्मोकिंग: धूमपान करने वालों के संपर्क से भी बच्चों को खतरा

- in अंतर्राष्ट्रीय
Loading...

धूमपान करने वाले के पास खड़े रहना यानी सेकेंड हैंड स्मोकिंग से सेहत पर खतरे की बात तो पहले भी सामने आ चुकी है। अब इस संबंध में एक चौंकाने वाला तथ्य सामने आया है। ताजा शोध के मुताबिक, जिस जगह पर किसी ने धूमपान किया हो या धूमपान करके आए हुए व्यक्ति के संपर्क से भी बच्चों को सांस की तकलीफ हो सकती है। इसे वैज्ञानिकों ने थर्ड हैंड स्मोकिंग की संज्ञा दी है।

अमेरिका के सिनसिनाटी चिल्ड्रेंस हॉस्पिटल मेडिकल सेंटर और यूनिवर्सिटी ऑफ सिनसिनाटी के शोधकर्ताओं के मुताबिक, चादर, पर्दे और कमरे की तमाम वस्तुओं पर तंबाकू के कण जमा होते रहते हैं। इसी तरह धूमपान करने वाले की अंगुलियों में भी इसके कण होते हैं। छोटे बच्चों के लिए इन तंबाकू कणों के संपर्क में आना भी सांस की तकलीफ की बड़ी वजह बन सकता है। वैज्ञानिकों ने इस खतरे को पहले के अनुमानों से ज्यादा घातक माना है।

Loading...
loading...

You may also like

कश्मीर पर मध्यस्थता: ‘जो भी बेहतर होगा मैं वो करूंगा’ – ट्रंप

Loading... 🔊 Listen This News वर्ल्ड डेस्क। डोनाल्ड