कांग्रेस के इस नेता ने मोदी पर कसा तंज, कहा, नहीं है ऐतिहासिक तथ्यों की जानकारी

कांग्रेसकांग्रेस

नयी दिल्ली। तीन तलाक पर प्रधानमंत्री मोदी के बयान को लेकर कांग्रेस ने पलटवार किया है। कांग्रेस के प्रवक्ता आनंद शर्मा ने सोमवार को कहा कि प्रधानमंत्री ने अपने पद की गरिमा को लगातार ठेस पहुंचायी है। कांग्रेस को मुस्लिमों की पार्टी कहना प्रधानमंत्री को शोभा नहीं देता। प्रधानमंत्री मोदी बीमार मानसिकता से ग्रस्त हैं, जो राष्ट्रीय चिंता का विषय है।

मोदी खुद लिखते हैं इतिहास

उन्होंने ऐसा बयान दिया है, जो ऐतिहासिक तथ्यों के हिसाब से गलत है। मोदी को इतिहास की कम जानकारी है और वह इतिहास स्वयं ही लिखते हैं। उनको यह याद रखना चाहिए कि महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू, सरदार पटेल, लाला लाजपत राय और मौलाना आजाद जैसे नेता कांग्रेस के अध्यक्ष रह चुके हैं। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मिर्जापुर में रविवार को 40साल पुरानी महत्वाकांक्षी बाणसागर परियोजना का लोकार्पण किया।

ये भी पढ़ें:मिशन 2019 : BSP सम्मेलन में गूंजे ‘मिले मुलायम-कांशीराम’ के नारे 

अधूरी पड़ी और योजनाएं क्यों नहीं नजर आती पीएम को

इस मौके पर उन्होंने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। प्रधानमंत्री ने कहा कि किसानों के लिए घडिय़ाली आंसू बहाने वालों से आपको पूछना चाहिए कि देश में अधूरी पड़ी ऐसी ही कई योजनाएं, उन्हें नजर क्यों नहीं आयीं।  प्रधानमंत्री मोदी ने पूर्ववर्ती सरकारों पर जनता की उपेक्षा करने और समय पर विकास परियोजनाओं को पूरा नहीं करने का आरोप लगाया।

40 साल पहले खींचा गया था बाणसागर परियोजना का खाका

उन्होंने कहा कि इस परियोजना का खाका 40 साल पहले 1978 में खींचा गया था, लेकिन काम शुरू होते-होते20 साल निकल गये। कई सरकारें आयीं-गयीं, लेकिन इस परियोजना पर सिर्फ बातें वायदे हुए। बाणसागर परियोजना 300 करोड़ रुपये में पूरी हो सकती थी, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। अब यह 3500 करोड़ रुपये में पूरी हुई। प्रधानमंत्री ने कहा वे (पूर्ववर्ती सरकारें) अपने कार्यकाल में सिंचाई परियोजनाओं को अधूरी छोडऩे का कारण बताएं। सिर्फ बाणगंगा का मामला नहीं है।

इस परियोजना से डेढ़ लाख हेक्टेयर जमीन सिंचित होगी

देश के हर राज्य में ऐसी कई योजनाएं अटकी पड़ी हैं। कहा कि बाणसागर परियोजना से मिर्जापुर, इलाहाबाद समेत इस पूरे क्षेत्र की डेढ़ लाख हेक्टेयर जमीन सिंचित होगी। प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों से मां विंध्यवासिनी का हवाला देकर वादा लिया कि वह पानी की एक एक बूंद की रक्षा करेंगे, ताकि इस पानी का फायदा अधिक से अधिक किसानों को मिल सकें।

ये भी पढ़ें:-बसपा ने बनाया आईटी सेल, पार्टी के दिग्गज नेता ने संभाली कमान 

अपार संभावनाओं का केंद्र  यह क्षेत्र

मोदी ने कहा कि विंध्य पर्वत और भागीरथी के बीच बसा यह क्षेत्र सदियों से अपार संभावनाओं का केंद्र रहा है। मार्च में जब मैं यहां सौर ऊर्जा संयंत्र का उद्घाटन करने आया था, तब फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों भी मेरे साथ आये थे। हमारा स्वागत विंध्यवासिनी माता की चुनरी के साथ किया गया था। इस स्वागत से अभिभूत मैक्रों ने मां के बारे में जानना चाहा। जब मैंने उन्हें मां के बारे में बताया, तो वह बहुत खुश हुए थे।

loading...
Loading...

You may also like

चुनावी नतीजों को लेकर कांग्रेस नेता गुलाब नबी आजाद का बीजेपी पर प्रहार

नई दिल्ली।पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के