मिशन 2019 में कांग्रेस को जीत दिलाएगा यह संगठन, किया जा रहा  विस्तार

मिशन 2019मिशन 2019

आजमगढ़। मिशन 2019 में जीत हासिल करने और जनता के बीच कांग्रेस की नीतियों को बताने के लिए पार्टी ने अब सेवादल पर भरोसा जताया है कांग्रेस एक माह से संगठन का विस्तार करने में लगी है मिशन 2019 के लिए सेवादल को आरएसएस की तर्ज पर  काम करने के लिए तैयार किया जा रहा है। यह गावों में जाकर जनता को कांग्रेस को से जोड़ेगा और उन्हें कांग्रेस को वोट देने के लिए प्रेरित करेगा।

ये भी पढ़ें:-पूर्व अखिलेश सरकार की बेरोजगार युवकों की मदद के लिए चलायी गयी योजना बंद 

कभी संगठन की रीढ़ माना जाता था सेवादल

बता दें कि कभी कांग्रेस की रीढ़ माना जाने वाला सेवादल वर्तमान में पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों की उपेक्षा के चलते काफी कमजोर हो चुका है। जिसका नतीजा है की कांग्रेस आम जनता से दूर होती चली गयी। बता दें कि एक जनवरी 1924 को इस फ्रन्टल संगठन का गठन हुआ था और इसके पहले संगठक (अध्यक्ष) पंडित जवाहर लाल नेहरू बने थे।

29 वर्षों से उपेक्षा का शिकार है संगठन

आरएसएस की तर्ज पर यह संगठन अंदर ही अंदर कांग्रेस को मजबूत करने का काम करता है लेकिन पिछले 29 सालों से यह संगठन उपेक्षा का शिकार रहा है, जिसका असर कांग्रेस पर पड़ा है और वह सत्ता से नहीं जनता से भी काफी दूर हो गयी। वर्ष 2017 विधानसभा चुनाव से पहले राहुल गांधी की खाट पंचायत को सफल बनाने में इस संगठन ने काफी अच्छी भूमिका निभाई थी।

ये भी पढ़ें:-अविश्वास प्रस्ताव से कुछ घंटे पहले मोदी सरकार को लगा बड़ा झटका 

आरएसएस की खिलाफत के लिए लांच किया जा रहा सेवादल

चुनावों में लगातार हार के बाद अब फिर कांग्रेस को इस संगठन की याद आयी है और सेवादल को फिर से मजबूत बनाने की कवायद शुरू हो गयी है। अब इसे पूरे जोश, रणनीति और बजट के साथ आरएसएस के खिलाफत में लांच किया जा रहा है। आजमगढ़ के मुख्य संगठक सत्य प्रकाश मिश्र का कहना है कि यह संगठन अस्तित्व में आने के बाद से ही सेवा का कार्य कर रहे है। हम सिर्फ कांग्रेस के लिए काम नहीं करते बल्कि समाज के दबे कुचले लोगों और आपदा में राहत का भी काम करते हैं।

ये भी पढ़ें:-Live : अविश्वास प्रस्ताव पर बहस शुरू, JDU ने किया बीजेपी का समर्थन 

राष्ट्रीय नेतृत्व के हिसाब से काम करेगा लोकसभा चुनाव में

मिश्र की माने तो अगले एक माह में संगठन का विस्तार हो जाएगा। इसमें उन लोगो को जगह दी जाएगी जो जनता से जुड़े हैं और जुझारू किस्म के है। उन्होंने बताया कि सेवादल का ड्रेस कोड सफेद पैंट शर्ट और जूता मोजा है। यह अपने नाम के अनुरूप सेवा का काम करता है। वर्ष 2019 के चुनाव में संगठन की भूमिका पर उन्होंने कहा यह संगठन हमेशा से कांग्रेस के लिए काम करता रहा है और आगे राष्ट्रीय नेतृत्व का जो फैसला होगा उस हिसाब से काम करेगा।

 

loading...
Loading...

You may also like

भारी विरोध के बीच लोकसभा में फिर पेश हुआ ‘ट्रिपल तलाक’ विधेयक

नई दिल्ली। मुस्लिम महिलाओं को समान नागरिक अधिकार