तोगड़िया का अनिश्चितकालीन अनशन 48 घंटे में खत्म, अब करेंगे भारत भ्रमण

तोगड़िया
Please Share This News To Other Peoples....

अहमदाबाद। विश्व हिंदू परिषद के पूर्व अध्यक्ष डॉक्टर प्रवीण तोगड़िया ने मंगलवार को अनिश्चितकालीन अनशन शुरू किया था। जिसे 2 दिन बाद गुरुवार को तोड़ दिया है। इस मौक पर तोगड़िया के साथ शिवसेना, विहिप और बजरंगदल के कार्यकर्ता मौजूद थे। बता दें कि विश्व हिंदू परिषद के अध्यक्ष पद से हटने के बाद तोगड़िया राममंदिर निर्माण के लिए माहौल बनाने का प्रयास कर रहे थे। जिसके तहत तोगड़िया ने अहमदाबाद में राम मंदिर की मांग को लेकर मंगलवार से अनिश्चितकालीन उपवास शुरू किया था। उपवास के दौरान तोगड़िया ने पीएम मोदी पर जमकर हमला बोला है। जिसमें उन्होंने 2002 के गुजरात दंगे का भी जिक्र किया।

तोगड़िया का अनिश्चितकालीन अनशन के बाद भारत भ्रमण

राममंदिर निर्माण को लेकर विश्व हिंदू परिषद के पूर्व अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने उपवास का समापन कर दिया है। खबर है की वो अब राममंदिर निर्माण को लेकर भारत भ्रमण करेंगे। जिसमें वो देश के सभी हिस्सों में जायेंगे। अनशन के दौरान तोगड़ि‍या ने पीएम मोदी पर भी जमकर हमला बोला है। उन्‍होंने कहा था, आपके पास जो आज सत्ता है वो हिन्दुओं की लाशों से मिली है। क्या आप भुल गए पुलिस की गोली से 300 हिन्दुओं को मरवाया गया था। बता दें कि कुछ दिन पहले तोगड़िया ने कहा था कि पीएम मोदी राममंदिर का मसला भूल गए हैं। साथ ही अनशन के दौरान तोगड़िया ने कहा कि आज भी गुजरात के 1200 से अधिक हिंदू आजीवन कारावास की सजा भुगत रहे हैं। आज भी उनके बीबी-बच्चों का कोई सहारा नहीं है।

ये भी पढ़ें: लंदन में बोले पीएम मोदी, ‘रोज 1-2 किलो गालियां खाना, यही मेरे सेहत का राज है’ 

मोदी सरकार से नाराज

तोगड़िया लगातार राम मंदिर के मुद्दे पर मोदी सरकार को घेर रहे हैं। प्रवीण तोगड़िया ने आरोप लगाते हुए कहा है कि बीजेपी ने संसद में बहुमत हासिल करने के बाद अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण करवाने के लिए कानून में बदलाव करने के वादों पर पलटी मार ली है। वो संसद में कानून लाकर राम मंदिर निर्माण के लिए हिंदुओं को एकजुट करने की बात कह रहे हैं। साथ ही तोगड़िया का आरोप है कि पिछले चार सालों में न तो कोई विकास हुआ है और न ही सरकार ने राम मंदिर का निर्माण किया है। वो आरोप लगा रहे हैं कि सरकार हर मोर्चे पर फेल होते नजर आ रही है। बता दें कि गुजरात के मुख्यमंत्री के तौर पर तोगड़िया और मोदी एक सच्चे मित्र के तरह रहे हैं।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *