अनियंत्रित डाले ने किसान को रौंदा, मौके पर हुई मौत

मौतमौत

लखनऊ। मलिहाबाद इलाके में अनियंत्रित पिकप डाले ने बाइक सवार किसान को रौंद दिया। हादसे में किसान की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। दोषी चालक गाड़ी छोडक़र भाग निकला। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने घटना स्थल की छानबीन करने के बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

मलिहाबाद के ग्राम मधवापुर निवासी विकास ने बताया कि उनका बड़ा भाई 35 वर्षीय राकेश किसान था। बुधवर को वह सुबह करीब 7 बजे खेत से वापस घर लौट रहा था। इसी दौरान मधवापुर पहुंचते ही माल की ओर से आ रहे पिकप डाला यूपी 30 एटी 1049 ने राकेश की मोटरसाइकिल पर टक्कर मार दी। हादसे में राकेश गाड़ी की चपेट में आ गया और उसकी मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। हादसा देख मौके पर स्थानीय लोगों और राहगीरों का जमावड़ा लगने लगा। इस पर दोषी चालक मौके पर ही गाड़ी छोडक़र भाग निकला। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और डाले को कब्जे में ले लिया।

राजमार्ग पर प्रदर्शन, मुआवजे की हो रही है मांग

मधुलता(28)और बड़ी बेटी सृष्टि (5) बेटा हर्षित (4) छोटी बेटी रागिनी (1.5) वर्ष हैं। घटना की जानकारी पाकर पहुंचे परिजनों का रो रोकर बुरा हाल था।

घटना की जानकारी पाते ही तुरन्त मौके पर पहुंचे प्रभारी निरीक्षक मलिहाबाद रितेन्द्र प्रताप सिंह ने बताया कि मुकदमा पंजीकृत कर पिकअप को अपने कब्जे में ले लिया गया है। बुधवार दोपहर बाद पोस्टमार्टम होने के बाद शव को परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया। आक्रोशित परिजन और समर्थक मलिहाबाद पहुंचे परिजनों ने मुआवजे की मांग को लेकर लखनऊ-हरदोई राज मार्ग पर शव को रखकर प्रदर्शन कर व रोड जाम किया। मौके पर पहुंची क्षेत्रीय विधायक जय देवी कौशल के 5 लाख मु यमंन्त्री राहत कोष, पारिवारिक लाभ, विधवा पेंशन, प्रधानमंत्री आवास दिलाने के आश्वासन पर रोड जाम व प्रदर्शन समाप्त हुआ।

यह भी ज़रूर पढ़ें:हमले के बाद स्वामी अग्निवेश बोले, पहाडिय़ा समुदाय ने बुलाया, तो फिर जाऊंगा पाकुड़ 

loading...
Loading...

You may also like

भारी विरोध के बीच लोकसभा में फिर पेश हुआ ‘ट्रिपल तलाक’ विधेयक

नई दिल्ली। मुस्लिम महिलाओं को समान नागरिक अधिकार