UP Board Exam: यूपी बोर्ड की ‘अग्निपरीक्षा’, 58 लाख से अधिक विद्यार्थी देंगे परीक्षा

यूपी बोर्डकंट्रोल रूम

लखनऊ। यूपी बोर्ड की असली अग्निपरीक्षा मंगलवार से शुरु गई है। हालांकि बोर्ड परीक्षाएं सात फरवरी से ही शुरू हो चुकी हैं, लेकिन 12 फरवरी से हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट दोनों की अनिवार्य विषयों की परीक्षाएं हो रही हैं।

बोर्ड परीक्षा में सबसे अधिक 58 लाख से अधिक परीक्षार्थी शामिल होंगे

बता दें कि मंगलवार को बोर्ड परीक्षा में सबसे अधिक 58 लाख से अधिक परीक्षार्थी शामिल होंगे। आज पहली पाली में हाईस्कूल हिंदी, प्रारंभिक हिंदी एवं इंटरमीडिएट बीमा सिद्घांत एवं व्यवहार, पंजाबी, बंगला, मराठी, असमी, उड़िया, कन्नड़, सिंधी, तमिल, तेलगु, मलयालम, नेपाली के 32.08 लाख परीक्षार्थी, जबकि दूसरी पाली में इंटरमीडिएट के हिंदी एवं सामान्य हिंदी के 26.27 लाख परीक्षार्थी बोर्ड परीक्षा में शामिल होंगे।

ये भी पढ़ें :-शिक्षा विभाग में बढ़ते मुकदमों का निपटारा करेगा ‘शिक्षा सेवा प्राधिकरण’ 

इस प्रकार दोनों पालियों में 58 लाख से अधिक विद्यार्थी बोर्ड परीक्षा में शामिल होंगे। पहली पाली की परीक्षा के लिए सुबह से ही छात्र परीक्षा केंद्र पर पहुंच चुके हैं। आठ हजार से भी ज्यादा केंद्रों पर होगी परीक्षा बोर्ड परीक्षा में पहली पाली में 8354 केंद्रों पर परीक्षा होगी।

हर पेज पर डालना होगा रोल नम्बर

यूपी बोर्ड सचिव नीना श्रीवास्तव ने बताया कि पहली बार नकल रोकने केलिए परीक्षार्थियों को अब उत्तर पुस्तिका के हर पृष्ठ पर रोलनंबर और कॉपी के प्रथम पृष्ठ पर दर्ज कॉपी कोड को लिखना होगा। इससे कॉपी बदले जाने की घटना पर रोक लगेगी।

Loading...
loading...

You may also like

यूपी में हुए दर्दनाक सड़क हादसे, हुई इतने लोगों की मौत

आगरा। सुबह यमुना एक्सप्रेसवे पर बलदेव क्षेत्र के