लखनऊ: प्रगति पर्यावरण संरक्षण ट्रस्ट की तरफ से यूपी महोत्सव का हुआ आयोजन

- in राष्ट्रीय, लखनऊ

लखनऊ। प्रगति पर्यावरण संरक्षण ट्रस्ट की ओर से यूपी महोत्सव का आयोजन 25 अक्टूबर से 4 नवम्बर तक हनुमान सेतु के निकट स्थित झूलेलाल घाट में किया जा रहा है। ट्रस्ट लगातार पर्यावरण संरक्षण के उद्देश्य से ऐसे आयोजन कर रहा है। इस उत्सव में पर्यावरण जागरण के लिए विभिन्न कार्यक्रम होंगे। पारंपरिक कलाओं को मंच देने के साथ साथ प्रतिभाओं को प्रोत्साहित भी किया जाएगा। इस उत्सव के दौरान हस्तकला मेले और पारंपरिक खानपान की स्टॉल्स भी लगायी जाएंगी। बच्चों के लिए झूले होंगे और समाज के विशिष्ट जनों का सम्मान भी किया जाएगा।

इस बात की जानकारी विनोद कुमार सिंह ने दी। झूलेलाल घाट में ट्रस्ट के अध्यक्ष विनोद कुमार सिंह ने बताया कि यूपी महोत्सव” में पर्यावरण के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वाली हस्तियों को पर्यावरण रत्न दिया जाएगा। प्रतिभाशाली बच्चों को बाल प्रतिभा रत्न से नवाजा जाएगा। यूपी महोत्सव में सरकारी गैर सरकारी योजनाओं व् सरकार की उपलब्धियों का व्यापक प्रचार प्रसार होगा।

ये भी पढ़ें:- ब्लॉक स्तरीय बेसिक बाल क्रीड़ा प्रतियोगिता का हुआ आयोजन 

उत्सव में सबका साथ सबका विकास,सामाजिक उत्थान वृक्षारोपण, पर्यावरण, जल संरक्षण, स्वच्छ्ता, महिला सम्मान ,महिला सशक्तिकरण,बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ,बाल विकास,स्वास्थ्य शिक्षा,कन्या भ्रूण हत्या,एड्स,कृषि ग्रामीण विकास,जनसंख्या वृद्धि, मद्यनिषेध,नशा उन्नमूलन,वृद्धा-विधवा, विकलांग कल्याण,भिक्षा वृत्ति, वैश्या वृत्ति रोकना,रोजगार,देश मे हो रहे विभिन्न खेलों को बढ़ावा देना सहित अन्य जागरूकता कार्यक्रम होंगें।

ये भी पढ़ें:- मध्यम वर्ग के छात्रों की पहुंच से बाहर होता जा रहा लखनऊ विश्वविद्यालय 

अन्य प्रतियोगिताएँ भी आयोजित होंगी। वहीं सांस्कृतिक कार्यक्रमों की श्रृंखला में विभिन्न प्रदेशों की लोक कलाएं, लोकगीत,एव लोकसंगीत तथा विशेष रूप से भोजपुरी, अवधी, बृज, कवि सम्मेलन,कौव्वाली,नाटकमंचन, जादू,कठपुतली, नृत्य,भजन-गजल,स्टार नाईट सहित दर्जनों रंगारंग कार्यक्रमों की प्रस्तुतियाँ विभिन्न कलाकारों द्वारा दी जाएंगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के “मिशन इंडिया क्लीन” के तहत स्वच्छता के क्षेत्र में विशेष उपलब्धि हासिल करने वाले व्यक्तियों को स्वच्छता सम्मान से अलंकृत किया जाएगा। इसके साथ ही महिला सम्मान समारोह भी होगा।

ये भी पढ़ें:- एसएसबी ने आरसेटी के सहयोग से शुरू किया सिलाई प्रशिक्षण 

समाज के हित में लगे विभिन्न सरकारी अधिकारियों का खासतौर से “यूपी महोत्सव ” के मंच पर अभिनंदन किया जाएगा जिससे कि वह दूसरों के लिए नजीर बनें। इसके साथ ही मेले में हैण्डलूम, हैंडी क्राफ्ट, खादी ग्रामोद्योग, स्वयंम सहायता समूह, महिला समूह, नाबार्ड, कृषि, ऑटोमोबाइल्स, किताबें, एजुकेशन, बैंकिंग, बीमा, रियल स्टेट, इलेक्ट्रानिक, खाने पीने का सामान सहित सौ से अधिक स्टॉल होंगे जिनके माध्यम से हस्तशिल्प और स्वरोजगार को प्रोत्साहित किया जाएगा। राजस्थानी खानपान और फास्ट फूड की भी स्टॉल्स होंगी। युवाओं और बच्चों के लिए रोमांचक झूले भी रहेंगे।

ये भी पढ़ें:- प्रौढ़ शिक्षा अभियान के तहत महाविद्यालय के छात्रों द्वारा निकाली गयी जन जागरूकता रैली

बाल प्रतियोगिताएं दिन में होंगी वहीं शाम को संगोष्ठियां और सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। उन सांस्कृतिक कार्यक्रमों में उत्तर प्रदेश संग देश के अन्य प्रदेशों की कलाओं को भी पेश किया जाएगा। पर्यावरण संरक्षण का देश देने के लिए पौधों का निरूशुल्क वितरण किया जाएगा। कार्यक्रम की पूर्व संध्या पर 24 अक्टूबर दिन बुद्धवार को शाम 5 बजे झूलेलाल घाट पर ही दीपदान किया जाएगा।

loading...
Loading...

You may also like

सिपेट कॉलेज पर कृष्ण के पिता ने लगाया लापरवाही का आरोप, छात्रों ने मचाया हँगामा

लखनऊ। सरोजनीनगर के नादरगंज स्थित सिपेट कॉलेज में